PDP

Mehbooba Mufti: श्रीनगर (Sri Nagar) के रहने वाले इनाम उन नबी सौदागर (Inam-un-Nabi Soudagar) ने आरटीआई (RTI) डालकर यह जानकारी मांगी थी। इसके बाद प्रोटोकॉल एंड हॉस्पिटलिटी विभाग ने महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) के मुख्यमंत्री बनने के बाद जनवरी से जून 2018 के बीच सरकारी आवास पर किए गए खर्चों का बिंदुवार ब्योरा दिया है। 

Jammu & Kashmir: इस चुनाव में जम्मू के 10 में से 6 जिलों में भाजपा (BJP) को बहुमत मिली है तो वहीं घाटी के कई जिलों में भी भाजपा ने अपना खाता खोला है और पार्टी का वोट शेयर भी इन जिलों में तेजी से बढ़ा है। ऐसे में घाटी में हुआ ये चुनाव बदलते कश्मीर की तरफ इशारा कर रहा है।

रोशनी एक्ट की आड़ में सरकारी भूमि की लूट का आलम यह था कि नैशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस जैसी पार्टियों के प्रदेश कार्यालय इसी एक्ट की आड़ में हथियाई गयी भूमि पर बने हैं। कांग्रेस-पीडीपी गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री रहे गुलाम नबी आज़ाद ने सैकड़ों करोड़ की सरकारी भूमि अपने चहेतों को कौड़ियों के भाव आवंटित कर दी।

Rohingya Jammu Kashmir: बता दें कि रोहिंग्या(Rohingya) शरणार्थियों को अब ऐसे इलाकों में भेजा जाएगा, जो सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील नहीं हैं। इसके साथ ही पाकिस्तान(Pakistan) और यूएई(UAE) से हवाला फंडिंग के सहारे शरणार्थियों को लाकर बसाने में शामिल एनजीओ के खिलाफ कार्रवाई पर भी विचार किया जा रहा है।

Mehbooba Mufti: महबूबा मुफ्ती(Mehbooba Mufti) ने शुक्रवार को आरोप लगाया था कि उन्हें फिर से हिरासत में ले लिया गया है और यहां तक कि उनकी बेटी को भी नजरबंद कर दिया गया है।

Jammu & Kashmir: गुपकार गठबंधन (Gupkar Alliance) के बावजूद इनके घटक दलों ने एक दूसरे को नुकसान पहुंचाने के लिए कई सीटों पर डमी उम्मीदवार भी खड़े किए हैं। यही नहीं कांग्रेस (Congress) ने तो कई सीटों पर सभी पार्टियों के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारने की घोषणा की है।

Jammu-Kashmir: कांग्रेस(Congress) के इस सफाई के पीछे माना जा रहा है कि जिस तरह से भाजपा(BJP) ने कांग्रेस पर पलटवार किया है, उसको देखते हुए कांग्रेस बैकफुट पर आ गई है और भाजपा के खिलाफ उल जुलूल बोलकर सफाई के तौर पर अपने आप को इससे अलग करने की बात भी कह डाली है।

Jammu & Kashmir:जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) से धारा 370 हटने के बाद से जहां एक ओर वहां के क्षेत्रीय राजनीतिक दल केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले खड़े हैं। वहीं पीडीपी की नेता महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) अपनी नजरबंदी से रिहाई के बाद से लगातार ऐसा बयान दे रही हैं जो विवाद का कारण बन जा रहा है।

Jammu Kashmir: मुफ्ती(Mehbooba Mufti) ने ट्वीट किया कि पीएजीडी(PSGD) को जम्मू कश्मीर के लोगों की पहचान की रक्षा करने के लिए बनाया गया है जिसपर अगस्त 2019 से लगातार हमला किया जा रहा है।

जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) के लिए नए भूमि कानून के खिलाफ पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) द्वारा यहां गुरुवार को निकाले जाने वाले विरोध मार्च को प्रशासन ने नाकाम कर दिया।