PM Narendra Modi

पीएम मोदी ने अयोध्या में सबसे पहले हनुमानगढ़ी पहुंचकर पूजा अर्चना की। इस दौरान सीएम योगी भी उनके साथ मौजूद रहे। यहां संतों ने पीएम मोदी को एक पगड़ी और साफा पहनाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इससे पूर्व 28 साल पहले 1992 में पहली बार अयोध्या पहुंचे थे। तब वह भाजपा के तत्कालीन अध्यक्ष डॉ. मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में निकली तिरंगा यात्रा में उनके सहयोगी के तौर पर अयोध्या पहुंचे थे।

अयोध्या में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। इसके बाद राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। एक तरफ जहां सभी देशवासी इसे लेकर उत्साहित हैं।

लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि रामजन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर निर्माण भारतीय जनता पार्टी का एक स्वप्न और मिशन भी है। उन्होंने कहा कि उन्हें विनम्रता का अनुभव होता है जब नियति ने उन्हें 1990 में रामजन्मभूमि आंदोलन के दौरान सोमनाथ से अयोध्या तक रामरथ यात्रा का दायित्व प्रदान किया और यात्रा के दौरान असंख्य लोगों की आकांक्षा ऊर्जा और अभिलाषा को प्रेरित किया।

पीएम मोदी ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए लिखा, सिविल सेवा परीक्षा, 2019 को सफलतापूर्वक पास करने वाले सभी युवाओं को बधाई! सार्वजनिक सेवा का एक रोमांचक और संतोषजनक कैरियर आपको इंतजार कर रहा है। मेरी शुभकामनाएं!

पांच अगस्त यानी बुधवार को होने वाले राम जन्मभूमि पूजन कार्यक्रम का पूरा देश इंतजार कर रहा है। इस कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या आएंगे और इस भूमि पूजन को संपन्न करेंगे।

कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए इस बार लालकिले में होने वाले कार्यक्रमों में भी थोड़ा बदलाव किया गया है। यहां होने वाले कार्यक्रम में इस बार बच्चे नजर नहीं आएंगे। हर साल 15 अगस्त को हजारों स्कूली बच्चे शामिल होते थे, जो तिरंगे के रंग के कपड़े पहने नजर आते थे।

यूपी सीएम ने इस दौरान भूमि पूजन स्थल के अलावा हनुमानघड़ी मंदिर का दौरा भी किया। बता दें कि अयोध्या में पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से राममंदिर का भूमिपूजन किया जाएगा।

ज्ञात हो कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास की तरफ से भेजे गए इस आमंत्रण पत्र में लिखा है श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का भूमिपूजन और कार्यारम्भ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर कमलों के द्वारा होगा।

चंपत राय के मुताबिक भूमि पूजन कार्यक्रम में गृह मंत्री अमित शाह शामिल नहीं होंगे, वो अगली बार अयोध्या आएंगे।