pragya thakur

बाबरी मस्जिद को लेकर विवादित बयान देने वाली साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर चुनाव आयोग ने 2 मई से 72 घंटे के लिए प्रचार करने पर रोक लगा दिया है जिसके बाद प्रज्ञा ठाकुर ने योगी फॉर्मूला अपनाकर चुनाव आयोग की सख्ती का तोड़ निकाल लिया है।

पटना में शुक्रवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए रामदेव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा, "प्रधानमंत्री का एजेंडा केवल देश है। प्रधानमंत्री का एजेंडा भारत को महाशक्ति बनाने का है

मध्य प्रदेश के भोपाल संसदीय क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बयानों से पार्टी के नेताओं में भी नाराजगी है। राजधानी से विधानसभा का चुनाव लड़ चुकीं भाजपा की मुस्लिम महिला नेत्री फातिमा सिद्दीकी ने प्रज्ञा पर हमला बोलते हुए प्रचार करने से इनकार कर दिया और नारा दिया, 'मोदी तुझसे बैर नही, प्रज्ञा तेरी खैर नहीं।'

शहीद हेमंत करकरे को लेकर साध्वी प्रज्ञा द्वारा की गई टिप्पणी पर बड़ा बवाल मचा है। हालांकि वो इस पर माफी भी मांग चुकी हैं। अब इस मामले पर लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा ने कहा कि हां ऐसे बयान से दुख होता है जब किसी शहीद के बारे में ऐसी बातें कही जाती हैं। उन्होंने कहा कि सेना हो या पुलिस पूरा सम्मान दिया जाना चाहिए। ऐसे बयान ठीक नहीं है।

शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए गए बयान के कारण साध्वी की किरकिरी हो रही है, हालांकि बीजेपी ने इसे उनका निजी बयान बताते हुए पल्ला झाड़ लिया था, जिसके बाद शायद साध्वी प्रज्ञा ने भी इस पर खेद जताना ही उचित समझा और माफी भी मांग ली। पर इसको लेकर बयानबाजी और विरोध जारी है।

नोटिस में कहा गया है, "प्रज्ञा ठाकुर का बयान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित आदर्श आचार संहिता की शर्तो का नियमानुसार उल्लंघन है।"

प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान के बाद से विवाद बढ़ गया। कांग्रेस इसे शहीदों के अपमान से जोड़कर देख रही है। हालांकि भाजपा ने खुद को इस बयान से अलग कर लिया है।

भोपाल से कांग्रेस की तरफ से प्रत्याशी बनाए गए दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ रही प्रज्ञा ठाकुर ने हेमंत करकरे को लेकर कहा कि हेमंत करकरे ने मेरे साथ काफी गलत तरीके से व्यवहार किया था और गलत तरीके से फंसाया था।

भाजपा ने भोपाल संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह के खिलाफ साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को मैदान में उतारा है। साध्वी पर मालेगांव बम विस्फोट मामले में शामिल होने का आरोप है।

नई दिल्ली। मालेगांव धमाका मामले में सात आरोपियों पर आतंकवाद की साजिश रचने का आरोप तय किया गया है। एनआईए...