Quarantine Center

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। जिसको देखते हुए अब प्राइवेट होटल्स को भी क्‍वारंटीन सेंटर बना दिया गया है।

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सरकार लोगों को क्वारंटीन सेंटर में रख रही है। ऐसे में क्वारंटीन सेंटर में रह रहे लोगों को अकेलापन अंदर ही अंदर खा रहा है। इसी वजह से लोग या तो क्वारंटीन सेंटर से भाग जाते है या अपनी जान दे देते है।

दिल्ली में पिछले हफ्ते भर से ऐसा लग रहा है कोरोना का विस्फोट हो गया हो। हालत ये है कि राजधानी दिल्ली कोरोना केस में मुम्बई से आगे निकल गई है।

दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव रोगियों को क्वारंटीन सेंटर जाकर जांच कराने के आदेश को रद्द कर दिया गया है। गुरुवार शाम दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

नई दिल्ली। छत्तीगढ़ के बिलासपुर में गर्भवती महिलाओं के लिये विशेष पृथक केन्द्र बनाया गया है। अधिकारियों ने रविवार को...

पंजाब के लुधियाना जिले के एक क्वारंटीन सेंटर के पानी की टंकी में जहर मिलाने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, इनमें से एक आरोपी के भाई को गिरफ्तार किया गया था।

पूरा देश इस समय कोरोना वायरस जैसी जानलेवा महामारी से जूझ रहा है। इस संक्रमण की चपेट में आए लोगों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है, जबकि संदेह की श्रेणी में आए लोगों को क्वारंटीन किया जा रहा है। क्वारंटीन सेंटरों में लोगों का टैलेंट सामने आ रहा है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के क्वारंटाइन सेंटर में रहने वाले अप्रवासी बिहारी मजदूरों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की और क्वारंटाइन सेंटरों में रहने वाले लोगों का हाल जाना।

क्वारंटाइन सेंटर से भागने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला पुणे के कोथरुड इलाके में सामने आया है। जहां एक शख्स शेल्टर होम से भाग गया, उसके भागने के पीछे की वजह शराब और सिगरट थी।

धनबाद पुलिस द्वारा दस इंडोनेशियाई जमातियों को जेल भेज दिया गया। इन सभी पर वीजा नियमों के उल्लंघन का आरोप है।