rafale deal

अटॉर्नी जनरल (सरकार के वकील) ने कोर्ट में कहा कि इस मामले में सरकार से सीएजी रिपोर्ट दाखिल करने में चूक हुई है। उन्होंने कहा कि राफ़ेल सौदे की फ़ाइल से लीक हुए कागजों में विमान की कीमत बताई गई है। राफेल विमान की कीमत बताया जाना सौदे के शर्तों का उल्लंघन है।

राफेल डील को लेकर राजनीतिक अरोप-प्रत्‍यारोप के बीच अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने शुक्रवार को कहा कि इससे संबंधित दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चुराए नहीं गए और सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को उन्‍होंने जो कुछ भी कहा था, उसका मतलब यह था कि याचिकाकर्ताओं ने आवेदन में उन 'मूल कागजात की फोटोकॉपी' का इस्तेमाल किया, जिसे सरकार ने गोपनीय माना है।

लोकसभा चुनाव से पहले राफेल का मुद्दा एक बार फिर गरमाने लगा है। इसी को लेकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल विमान सौदे से जुड़े दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी होने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और दावा किया कि यह स्पष्ट रूप से भ्रष्टाचार का मामला है और इसके लिए प्रधानमंत्री के खिलाफ जांच एवं कार्रवाई होनी चाहिए।

राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के बाद अब एक बार फिर राजनीति शुरू हो गई है। राफेल मामले में दायर पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई के दौरान अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि डिफेंस मिनिस्ट्री से कुछ गोपनीय दस्तावेज चोरी हो गए थे, जिनके आधार पर ही याचिकाएं दायर की गई हैं।

भारतीय वार्ताकार दल (आईएनटी) के तीन सदस्यों द्वारा आठ पृष्ठों के नोट में व्यक्त की गई असहमति का जिक्र करते हुए महान्यायवादी के.के. वेणुगोपाल ने प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति के.एम. जोसेफ की पीठ को बताया कि इसकी जांच की जा रही है

संसद में राफेल डील (Rafale Deal) पर कैग रिपोर्ट पेश होने के बीच कांग्रेस संसदीय दल की बैठक हुई।इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व मुख्यमंत्री मनमोहन सिंह समेत पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।

मंत्रालय की ओर से 54 इजरायली HAROP ड्रोन की खरीद को मंजूरी दे दी है। इसकी सबसे बड़ी खासियत ये है कि ये किलर ड्रोन दुश्मन के हाई-वैल्यू मिलिट्री टारगेट को पूरी तरह से नेस्तो नाबूद कर सकता है।

बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 'लायर राहुल' हैशटैग के साथ सिलसिलेवार कई ट्वीट कर राफेल पर बोले गए कांग्रेस अध्यक्ष के 'झूठ' गिनाए हैं।

निर्मला सीतारमण ने न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए अपने साक्षात्कार में बताया कि अखबार ने जो तत्कालीन रक्षा सचिव के बारे में 5 बातें छापीं, उन्होंने पूरी बात नहीं बताई। वे जो खुलासा कर रहे हैं उसके बारे में उन्हें आगे भी बताना चाहिए।