Rajnath Singh

राजनाथ सिंह ने इमरान खान के कश्मीर रवैये की आलोचना भी की। उन्होंने इमरान के भाषण का जिक्र करते हुए कहा कि वो कश्मीर के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संघर्ष की बात कहते हैं।

राफेल लड़ाकू विमान का जिक्र करते हुए राजनाथ ने अप्रत्यक्ष रूप से पाकिस्तान को यह चेतावनी दी। रक्षा मंत्री ने दो टूक कहा कि जब राफेल जैसे लड़ाकू विमान होते हैं तो फिर बालाकोट स्ट्राइक के लिए पाक जाने की जरूरत नहीं है।

विजयादशमी के दिन फ्रांस में राफेल को रिसीव करने गए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल शस्त्र पूजा की तो भारत में विपक्षी दलों ने इसपर सवाल उठा दिया। कांग्रेसी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने तो इसे तमाशा बता दिया।

राजनाथ सिंह के शस्त्र पूजा पर हंगामा क्यों है बरपा?

मल्लिकार्जुन खड़गे ने सवाल खड़े किए थे और इसे तमाशा बताया था। अब कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने खड़गे को करारा जवाब दिया है और कहा है कि, ये कोई तमाशा नहीं बल्कि हमारी परंपरा है।

राजनाथ सिंह ने उड़ान पूरी होने के बाद मीडिया चैनलों से कहा, "राफेल विमान के भारतीय अधिग्रहण का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाना चाहिए। यह उनकी निर्णायक क्षमता के कारण संभव हुआ। भारत फरवरी 2021 तक प्रथम 18 राफेल विमान प्राप्त कर लेगा। अप्रैल-मई 2022 तक हमें सभी 36 विमान मिल जाएंगे।"

राजनाथ सिंह इससे पहले भी विजयादशमी के मौके पर शस्त्र पूजन करते आए हैं। पिछले साल उन्होंने बीकानेर में जवानों के साथ शस्त्र पूजन संपन्न किया था।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आठ अक्टूबर को फ्रांस जाकर राफेल विमान में उड़ान भरेंगे। रक्षा सूत्रों ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को मुंबई के माजागोन डॉक्स में एक समारोह में भारत की दूसरी स्कॉर्पियन क्लास युद्धक पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी को भारतीय नौसेना में शामिल कर लिया।

उन्होंने कहा कि हमारे तटीय और समुद्री सुरक्षा बल इस आशंका के मद्देनजर पूरी सतर्कता बरत रहे हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं आप लोगों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि हमारी नौसेना ऐसे किसी भी खतरे से निपटने में पूरी तरह सक्षम है।