Rajnath Singh

अर्थव्यवस्था के बारे में राजनाथ सिंह ने कहा कि चुनावों के दौरान मुद्रास्फीति मुख्य चुनाव मुद्दा रहता था, लेकिन 2004 और 2019 के चुनाव के दौरान यह मुद्दा नहीं है, क्योंकि दोनों भाजपा प्रधानमंत्रियों (अटल बिहारी वाजपेयी और नरेंद्र मोदी) के प्रबंधन ने कीमतों को बढ़ने नहीं दिया।

राजनाथ ने ट्वीट में कहा, "कानून-व्यवस्था किसी राज्य सरकार और उसके मुख्यमंत्री की प्राथमिक जिम्मेदारी है। पश्चिम बंगाल सरकार ओर मुख्यमंत्री को मौजूदा हालात की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।"

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इस लोकसभा चुनाव में 2014 से भी ज्यादा सीटें जीतेगी और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को दो-तिहाई बहुमत प्राप्त होगा।

राजनाथ ने कांथी में एक रैली में कहा, "दीदी भाजपा लहर के कारण इतना तनाव में हैं कि वह प्रधानमंत्री का फोन भी नहीं उठाती हैं। पूरा देश समझ सकता है कि भाजपा की लहर पूरे बंगाल में फैल रही है और यहां पार्टी सभी लोकसभा सीटों पर जीत का झंडा फहराएगी।"

पांचवें चरण में इन दिग्गजों ने किया अपने मताधिकार का इस्तेमाल

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में उत्तर प्रदेश की 14 लोकसभा सीटों के लिए आज वोट डाले जा रहे हैं। मतदान सुबह सात से शुरू हुआ और शाम छह बजे संपन्न होगा। इसी कड़ी में गृह मंत्री व लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने गोमतीनगर में स्कॉलर्स होम स्कूल में आज सोमवार सुबह 7.30 बजे वोट डाला।

पिता राजनाथ के प्रचार की कमान संभाल रहे पंकज ने अपनी प्रचार रणनीति के बारे में कहा, "चुनाव प्रचार में डिजिटल और परंपरागत दोनों माध्यमों का इस्तेमाल हो रहा है। परंपरागत माध्यम प्रचार का ज्यादा अच्छा माध्यम है।

बता दें कि लखनऊ में लोकसभा चुनाव छह मई को (पांचवे चरण) में होगा। इस बार लखनऊ से सपा ने शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा और कांग्रेस ने आचार्य प्रमोद कृष्णम को मैदान में उतारा है।

बीजेपी के बाद अब विपक्ष ने भी लखनऊ से अपने उम्मीदवार उतार दिए हैं। राजनाथ को रोकने के लिए सपा से पूनम सिन्हा और कांग्रेस से प्रमोद कृष्णन मैदान में हैं। चूंकि 1991 से ही विपक्ष के लिए यह सीट अबूझ पहेली रही है। कुछ एक मौके को छोड़ दिया जाए तो विपक्ष ने यहां से बीजेपी को चुनौती देने के लिए बाहरी या 'सितारे' ही चुने हैं।

कांग्रेस नेता और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। उन्होंने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव से मुलाकत की और औपचारिक रुप से पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।