Rakesh Tikait

Farmers Protest: भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत भी इस मुद्दे को लेकर सियासत करने से बाज नहीं आ रहे है। दरअसल पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों से पहले किसान नेता राकेश टिकैत राज्य में महापंचायत करने जा रहे है। वह 13 मार्च को पश्चिम बंगाल में रहेंगे। 

Haryana: प्रदर्शनकारी किसानों को संबोधित करने पहुंचे राकेश टिकैत से एक छात्रा ने ऐसा प्रश्न पूछ लिया कि जिसके बाद हंगामा हो गया। इतना ही नहीं छात्रा के सवालों ने किसान नेता राकेश टिकैत की बोलती तक बंद कर दी। दरअसल छात्रा ने राकेश टिकैत से 26 जनवरी के दिन ट्रैक्‍टर परेड के दौरान दिल्‍ली में हुई हिंसा के बारे में सवाल पूछा लिया।

Farmers Protest: राकेश टिकैत के इस दावे के बाद से लोग भाजपा के उस सांसद के नाम को लेकर अटकलें लगाना शुरू कर चुके हैं। लोग तो यह तक मानने लगे हैं कि पश्चिमी यूपी का कोई सांसद किसानों के समर्थन में अपने पद से इस्तीफा दे सकता है। लेकिन वहीं कुछ लोग यह मानने लगे हैं कि यह शुरुआत पंजाब या हरियाणा से हो सकती है।

Farmers Protest: राकेश टिकैत ने कहा कि हमारा अगला आह्वान संसद मार्च के लिए होगा। अगर कृषि कानून वापस नहीं लिए जाएंगे तो इस बार 4 लाख ट्रैक्टर नहीं बल्कि 40 लाख ट्रैक्टर वहां जाएंगे। ये बयान उन्होंने मंगलवार को राजस्थान के सीकर में एक किसान रैली को संबोधित करते हुए दिया।

Farmer Protest: दरअसल आंदोलन को अक्टूबर तक ले जाने को लेकर किसान नेताओं में आपसी सहमति नहीं बन पा रही है। इसी के चलते किसान नेताओं में आपसी मतभेद नजर आ रहे हैं।

Tara Gandhi Bhattacharya : इस दौरान राकेश टिकैत(Rakesh Tikait) ने मंच से कहा कि, "किसान आंदोलन होगा और चलता रहेगा, चाहे गर्मी हो या बरसात। गर्मियों में बॉर्डर पर जनरेटर लगाए जाएंगे और जिस तरह गांव गांव से पानी आया है, उसी तरह डीजल भी गांव गांव से आएगा।"

Farmer Protest: वीरेंद्र सिंह(Virendra Singh) ने कहा, '26 जनवरी को जो कुछ हुआ उसके बाद राकेश टिकैत(Rakesh Tikait) को आंदोलन खत्म कर दिल्ली पुलिस के सामने सरेंडर कर देना चाहिए था। सरकार उन्हें किसान समझ रही है, वो किसान नहीं हैं।

Rakesh Tikait: किसान आंदोलन(Farmer Protest) खत्म करने की पीएम मोदी(PM Modi) की अपील पर राकेश टिकैत ने कहा, सरकार यदि बात करना चाहती है तो हमारी कमेटी बात करेगी। हमारे मंच भी वही हैं और पंच भी वही हैं, हम चर्चा करना चाहते हैं।

Farmers Protest: वहीं भारतीय किसान यूनियन के पूर्व जिलाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह (Chaudhary Virendra Singh) ने भी जमकर कई चैनलों पर किसान नेता राकेश टिकैत पर हमला बोला। उन्होंने सीधे तौर पर इस आंदोलन को किसान आंदोलन कहने से मना कर दिया और कहा कि यह आंदोलन किसानों का आंदोलन ही नहीं है। उन्होंने कहा कि जिसने कुर्ता-पैजामा पहन लिया वह कहां से किसान नेता हो गया यह तो सीधे तौर पर राजनेतिक आंदोलन हो गया।

Farmer Protest: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार(Sharad Pawar) ने सचिन को अपने क्षेत्र को छोड़कर किसी अलग विषय पर बोलने में सावधानी बरतने की सलाह दी है.