Ram Mandir Trust

अयोध्या में रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण की प्रक्रिया में होली के बाद तेजी देखने को मिलेगी। मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट का काम-काज प्रभावित न हो इसके लिए अधिग्रहीत परिसर से लगे रामकचहरी मंदिर के एक प्रखंड में कार्यालय खोला जा रहा है, जिसे होली बाद किसी भी दिन शुभ मुहुर्त देखकर संचालित किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्ययमंत्री योगी आदित्यानाथ रविवार को अयोध्या पहुंचे। वे राम मंदिर के पक्ष में फैसला आने के बाद पहली बार अयोध्या पहुंचे। उन्होंने अयोध्या में विकास की स्थितियों की समीक्षा की। योगी ने अयोध्या में मुख्यमंत्री आरोग्य मेला का उद्घाटन भी किया।

ट्रस्ट के नए अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास ने कहा कि राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, लेकिन उसे और ऊंचा और चौड़ा करने के लिए प्रारूप में थोड़ा बदलाव किया जाएगा।

राम मंदिर ट्रस्ट की पहली बैठक दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के सीनियर वकील के परासरण के घर पर हुई। इस बैठक में महंत नृत्यगोपाल दास ट्रस्ट को अध्यक्ष चुना गया।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की दिशा में ट्रस्ट के गठन होने के बाद विश्व हिंदू परिषद (विहिप) काफी उत्साहित है। लिहाजा, विहिप अब दूसरे मुद्दों पर आगे बढ़ने लगी है।

राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए ट्रस्ट श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की पहली बैठक की जगह और तारीख तय हो गई है। यह बैठक 19 फरवरी को दिल्ली में होगी।

केंद्र सरकार ने राम मंदिर से जुड़े ट्रस्ट को बनाने की प्रक्रिया पूरी कर ली है। इस सिलसिले में बातचीत पूरी हो चुकी है। ट्रस्ट में राम मंदिर आंदोलन से जुड़े लोगों की संख्या ज्यादा होने की उम्मीद है।

अपने फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र की मोदी सरकार से कहा है कि, नरेंद्र मोदी सरकार तीन महीने के अंदर स्कीम लाए और ट्रस्ट बनाए। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि, यह ट्रस्ट अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करेगा।