ram temple construction

रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Ramjanmabhoomi Tirtha Kshetra Trust) की मंदिर (Ram Mandir) निर्माण समिति की बैठक एक दिन पहले हो चुकी है। इस बैठक में पत्थरों के मध्य जोड़ में दस-दस हजार तांबे की राड के अलावा ताम्र पत्र लगाने के निर्णय के बाद श्रद्धालुओं में ताम्र पत्र व राड को दान (Donation) करने की होड़ मच गयी है।

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) के भूमि पूजन (Bhumi Poojan) के साथ ही निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसी कड़ी में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के मंदिर निर्माण समिति की बैठक 20 अगस्त को दिल्ली में होगी।

अखंड भारत (India) भारतवासियों के लिए केवल शब्द नहीं है। यह हमारी श्रद्धा, भाव, देशभक्ति व संकल्पों का अनवरत प्रयास है जिसे प्रत्येक देशभक्त जीवंत महसूस करता है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी में शनिवार को अलग-अलग अंतर्राष्ट्रीय नंबरों से मीडियाकर्मियों व अन्य लोगों को धमकी भरा फोन का ऑडियो सुनाया गया है। राम मंदिर के निर्माण के खिलाफ ऑडियो वायरल होने के बाद पुलिस महकमा हरकत में आया और हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन कल यानी 5 अगस्त को होगा। इस ऐतिहासिक मौके के लिए पूरी अयोध्या नगरी को भव्य रूप में सजाया गया है।

भूमि पूजन के कार्यक्रम की तैयारियां अब लगभग पूरी हो चुकी हैं। ऐसे में कल श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तरफ से भूमि पूजन में शामिल होने वाले हर अतिथि को चांदी का सिक्का दिया जाएगा।

पिछले एक वर्ष के भीतर यह चौथा बड़ा मौका है, जब आरएसएस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की खुलकर तारीफ की है। अब राम मंदिर निर्माण की घड़ी करीब आने पर आरएसएस के सरकार्यवाह (महासचिव) सुरेश भैय्याजी जोशी के आए ताजा बयान से संकेत निकल रहे हैं।

अयोध्या के हनुमान गढ़ी से ऑनलाइन शुरू होने वाले इस अखंड मानस आयोजन का समापन भोपाल में होगा।

जबलपुर की उर्मिला चतुर्वेदी द्वारा 28 वर्ष तक अन्न न ग्रहण करने की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रामस्तुति ट्वीट की, "श्री रामचंद्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं। नव कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद कंजारुणं।"

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए पांच अगस्त को भूमि पूजन होने वाला है। इसके लिए अयोध्या में तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। भूमि पूजन कार्यक्रम से पहले रामनगरी को सजाने का काम किया जा रहा है। इस भव्य पूजन के लिए दिवाली की तरह राम नगरी को सजाया गया है। हर और दिवाली जैसी जगमग है। इस भव्य कार्यक्रम में करीब 200 लोग शामिल होंगे। आप भी देखिये रामनगरी की मनमोहक तस्वीरें....