Ram temple

पांच अगस्त को अयोध्या में होने वाले राममंदिर भूमि पूजन से एक दिन पहले रामनगरी में महादीवाली मनाई जा रही है। सबसे पहले रामजन्मभूमि पर दीपक जलाया गया। इसके बाद पूरी राम नगरी दीपकों की रोशनी से नहाई है।

भूमि पूजन के कार्यक्रम को देखते हुए अयोध्या को सजाया गया है, सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं। बता दें कि कड़ी सुरक्षा के बीच आज सभी मेहमान पहुंच रहे हैं। ऐसे में स्वामी रामदेव अयोध्या पहुंच चुके हैं।

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में सरयू नदी के तट पर संध्या आरती की गई है। पुजारियों ने सोमवार शाम यह आरती की। संध्या आरती के दौरान मंत्रों का उच्चारण किया गया जिससे पूरा वातावरण गूंजायमान हो गया।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए पांच अगस्त को भूमि पूजन होने वाला है। इसके लिए अयोध्या में तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। भूमि पूजन कार्यक्रम से पहले रामनगरी को सजाने का काम किया जा रहा है। इस भव्य पूजन के लिए दिवाली की तरह राम नगरी को सजाया गया है। हर और दिवाली जैसी जगमग है। इस भव्य कार्यक्रम में करीब 200 लोग शामिल होंगे। आप भी देखिये रामनगरी की मनमोहक तस्वीरें....

इस ऐतिहासिक दिन के लिए रामनगरी अयोध्या पूरी तरह से सजकर तैयार है। अयोध्या का रूप रंग बदल चुका है।

उन्होंने कहा, "सेकुलरिज्म के नाम पर कोई देश अपनी राष्ट्रीयता से समझौता नहीं कर सकता। जिस देश को अपनी सांस्कृतिक जड़ों, राष्ट्रीयता की पहचान का बोध नहीं होता, वह राष्ट्र राष्ट्र नहीं सिर्फ जमीन का टुकड़ा रह जाता है।"

दरअसल 5 अगस्त को न्यूयॉर्क के प्रतिष्ठित टाइम्स स्क्वायर पर प्रभु राम की भव्य तस्वीर प्रदर्शित की जाएगी। इतना ही नहीं साथ ही टाइम्स स्क्वायर पर राम मंदिर की 3डी तस्वीर को भी दिखाया जाएगा।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन की तैयारियां जोरों पर है। भूमि पूजन होने के बाद राम मंदिर का निर्माण भी शुरू हो जाएगा।

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने राज्य पुलिस को अगले सप्ताह अयोध्या में राम मंदिर के 'भूमिपूजन' समारोह को बाधित करने और हमला करने के संभावित प्रयासों के मद्देनजर सचेत किया है।

टीम भारत ने सोशल मीडिया पर ये दस्तावेज में शेयर किए हैं। इसके मुताबिक पाकिस्तानी सेना ने एक लंबा-चौड़ा प्लान बनाया है। 5 अगस्त को कई चरणों में इसे अंजाम दिया जाएगा। सबका मकसद एक ही है भारत के खिलाफ अशांति भड़काना।