rashtriya swayamsevak sangh

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने राष्ट्रवाद को लेकर बड़ा बयान दिया है। मोहन भागवत ने झारखंड की राजधानी रांची में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रवाद शब्द की जगह राष्ट्र या राष्ट्रीय शब्द का इस्तेमाल होना चाहिए क्योंकि इसमें नाजी और हिटलर की झलक मिलती है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के महासचिव सुरेश भैयाजी जोशी ने एक बड़ा बयान दिया है। गोवा में एक व्याख्यान के दौरान उन्होंने कहा कि कि हिंदू समुदाय का मतलब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नहीं है।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने एक बड़ा बयान दिया है। सरसंघचालक चार दिवसीय प्रवास पर बुधवार रात से मुरादाबाद में हैं। गुरूवार को प्रांत प्रचारकों के साथ बैठक में उन्होंने कई महत्वपूर्ण मसलोम पर विमर्श किया।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कुछ कांग्रेसियों की आत्मा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विचारधारा प्रवेश कर जाने की बात कही है।

इंद्रेश कुमार ने कहा, "वहां यह प्रश्न है कि क्या वे (फिरोज खान) अपना दायित्व ईमानदारी से निभा पाएंगे? इसकी आश्वस्ति उनकी की तरफ से नहीं आई है। इसलिए झंझट बढ़ गई है। क्या अपने दायित्वों से वह न्याय कर पाएंगे? क्या एक नए भारत को वह मजबूत कर पाएंगे?"

बीएचयू में विवि प्रशासन की ओर से धरना खत्म होने के दावे को झुठलाते हुए छात्रों ने प्रदर्शन के 16वें दिन शुक्रवार को अपना धरना जारी रखा।।

विगत कुछ दिनों से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को लेकर आम चर्चा है उस पर एक पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में देश के पूर्व मुख्यन्यायधीश जो की समाज के दलित वर्ग से आते हैं उनके द्वारा कार्यक्रम में सामाजिक न्याय के विषय को उठाना।

आरएसएस प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशनों और समाचार चैनलों के करीब 70 पत्रकारों से बातचीत करेंगे और विभिन्न मसलों पर उनके सवालों का जवाब देंगे जिसमें किसी भी विषय के लिए मना नहीं किया जाएगा।

मोहन भागवत की ट्विटर प्रोफाइल के मुताबिक उन्होंने मई 2019 में ही इसे जॉइन कर लिया था लेकिन अकाउंट वेरिफाइड अब हुआ है। वहीं, संघ के कई अहम पदाधिकारियों ने बीते कुछ ही दिनों में यहां अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है।

नई दिल्ली। आगामी 2019 लोकसभा चुनाव में जिस तरह से केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का नाम प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार...