Research

"शोध से पता चलता है कि इस जीन संबंधी उत्परिवर्तन वालों के जीवन में अवसाद के बढ़ने पर उनके लती होने का ज्यादा खतरा होता है।"

यह संबंध पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में अधिक देखा गया। ग्रॉट ने कहा, "हमारा परिणाम कैंसर के जोखिम की ओर इशारा करता है जो स्लीप एपनिया से पीड़ित महिलाओं में दो से तीन गुना ज्यादा है।"

हम तनाव से बच नहीं सकते हैं, लेकिन तनाव पर कैसे प्रतिक्रिया देनी है, उसे सुधार सकते हैं, और इसका असली असर हमारे दिमाग पर पड़ता है, जब हम मध्य आयु में पहुंच जाते हैं।"

शोधकर्ताओं को उम्मीद है कि किसी मरीज की कोशिकाओं का उपयोग कर वे एक दिन स्टेम सेल्स की शक्ति को काम में लाकर इंसान के दिल का उपचार करने में समर्थ हो पाएंगे।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, हालांकि रेड वाइन में रेसवेराट्रोल मौजूद होता है, लेकिन शराब के सेवन से नशे सहित कई और स्वास्थ्य संबंधी जोखिम का खतरा बना रहता है।

शोध के दौरान जिन बच्चों को सुबह खाली पेट कॉफी पीने के लिए कहा गया उनकी शारीरिक और मानसिक स्थिति में नकारात्मक बदलाव देखने को मिले। कॉफी की वजह से शरीर में एसिड की मात्रा बढ़ जाने के कारण ऐसा हुआ।

कार्य स्मृति और तीन स्वास्थ्य संबंधी कारक जैसे कि नींद, उम्र और डिप्रेस्ड मूड के बीच शोधकर्ताओं ने गहरा संबंध पाया है।

विभिन्न वजहों से होने वाले अस्थमा के भी कई प्रकार होते हैं जैसे एडल्ट ऑनसेट अस्थमा, एलर्जिक ऑक्यूपेशनल अस्थमा, व्यायाम से होने वाला अस्थमा और गंभीर (सीवियर) अस्थमा इत्यादि।

शोध के निष्कर्ष से पता चला कि उच्चतम फिटनेस की श्रेणी में आने वाले लोगों में फेफड़े के कैंसर के विकास की संभावना 77 प्रतिशत और कोलन कैंसर के विकास की संभावना 61 प्रतिशत कम हो गई।

अगर आप समझते हैं कि कार्यालय में काम के दबाव को आप सहन नहीं कर सकते, तो थोड़ा सुस्ता लीजिए। हां, एक और बात आपकी चिंता बढ़ा सकती है, और वह है ठीक से नींद ना लेना।