Sanitizer

UP: यूपी सरकार (UP Government) ने कोविड-19 अवधि के दौरान सैनिटाइजर (Sanitizer) का 177 लाख लीटर उत्‍पादन दर्ज कर राजस्व वृद्धि का एक नया रिकार्ड बनाया है।

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) लगातार प्रदेश में कोरोनावायरस (coronavirus) से लड़ने के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए अलग-अलग तरह के सुझाव देते रहते हैं।

UP: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) ने सैनिटाइजर (Sanitizer) का रिकॉर्ड उत्पादन (Sanitizer Record Production) कर इतिहास रच दिया है। प्रदेश में कुल 1,76,66,000 लीटर सैनिटाइजर का उत्पादन कर चुका है।

Covid kits procurement in UP: इस पूरे मामले की पोल जिस सोशल एंड पॉलिटिकल रिसर्च फांउडेशन (SOCIAL & POLITICAL RESEARCH FOUNDATION) ने खोली है उस पर भरोसा इसलिए भी ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि पद्म श्री राम बहादुर राय (Ram Bahadur Rai) दशकों के अनुभव के साथ इस क्षेत्र में कार्यरत रहे हैं। जनसत्ता के समाचार संपादक के रूप में कार्य करने के बाद, उन्होंने कई पुस्तकों का लेखन और संपादन भी किया है और कई लेखकों के साथ उनके मेंटोर के तौर पर भी जुड़े रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्रियों चंद्रशेखर और वीपी सिंह पर उनकी आत्मकथाएं बहुत हिट रहीं। आपातकाल के दौरान वह जेपी आंदोलन से निकटता से जुड़े थे और संचालन समिति के प्रमुख सदस्य थे। अब इस पूरे मामले पर उनका खुलासा आम आदमी पार्टी सरकार की नींद उड़ाने के लिए काफी है।

CM Yogi : योगी ने कहा कि कोविड-19(Covid-19) के उपचार सम्बन्धी औषधियों, टेस्टिंग किट्स(Testing Kits) तथा बचाव में इस्तेमाल होने वाली सामग्री जैसे मास्क, ग्लव्स, पीपीई किट(PPE Kit) तथा सेनिटाइजर(Sanitizer) आदि की पयार्प्त एवं सुचारु व्यवस्था बनाए रखी जाए।

स्किल मैपिंग से हुनरमंद कामगारों को उनके मुताबिक काम मिल सकेगा। इसके लिए योगी सरकार अभी तक लगभग 32 लाख से अधिक श्रमिकों व कामगारों की स्किल मैंपिंग करा चुकी है।

देश में कोरोनावायरस के संदिग्ध मरीजों की संख्या में दिन-प्रतिदिन वृद्धि हो रही है। सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र, दिल्ली और तमिलनाडु से सामने आ रहे हैं।

देश में कोरोना वायरस के प्रकोप की रोकथाम के लिए सरकार ने सैनिटाइजर और फेस मास्क की कीमत तय कर दी है। केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान ने शुक्रवार को ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी।

कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुये देशभर में अधिक सतर्कता बरती जा रही है। कई विभागों और मंत्रालय ने भी अपने कर्मचारियों को निर्देश जारी किया है।

हालांकि, सरकार ने सभी नागरिकों से सावधानी बरतने का अनुरोध किया है। लोगों में ज्यादा व्याकुलता देखी जा रही है। रोकथाम के लिए दवाई और उपचारों की ज्यादा खोज हो रही है। लोग इंटरनेट पर इस मामले से सबंधित ज्यादा सूचनाएं ढूढ रहे हैं।