Saudi Arab

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा देश-विदेशों में की जाती है। पीएम मोदी के काम की तारीफ भी करते लोग नहीं थकते। उन्होंने विदेश में भी देश के नाम को ऊंचा किया है। इसी बीच अब अमेरिका के उद्योगपति रे डेलियो ने पीएम नरेंद्र मोदी को दुनिया के सबसे महान नेताओं में से एक बताया है।

इस दौरे की सबसे बड़ी बात ये है कि दोनों देश आपसी रिश्तों को मजबूती देने के लिए भारत-सऊदी अरबिया स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप काउंसिल बना सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी की सऊदी अरब की 33 घंटे की यात्रा से इमरान के 'जेहादी कार्ड' पर बहुत बड़ी 'कूटनीतिक स्ट्राइक' होने जा रही है।

इस दौरान ये भी समझौता हुआ कि, भारत-सऊदी अरब एक काउंसिल बनाएंगे, जो दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेधारी पर काम करेगा। सऊदी अरब चौथा देश है, जिसके साथ भारत ने ये समझौता किया है।

इस फोरम का उद्देश्य सिर्फ यहाँ के अर्थतंत्र की चर्चा करना नहीं है बल्कि विश्व में उभरते ट्रेंड्स को समझना और उसमें विश्व कल्याण के रास्ते ढूंढना भी है- पीएम मोदी

फिलहाल सच यही है कि अपनी शान बढ़ाने के लिए इमरान खान वापसी के दौरान जिस उधारी के विमान में बैठे थे उसमें गड़बड़ी आ गई और उन्हें ये विमान भी अमेरिका में छोड़ना पड़ा बाद में वो कमर्शियल फ्लाइट से टिकट खरीदकर वापस पाकिस्तान के लिए रवाना हुए।

वहां की सरकार का मानना है कि पाकिस्तान के इन दोनों डिग्री वाले डॉक्टर्स की पढ़ाई उस स्तर की नहीं कि उन्हें यहां प्रैक्टिस करने दिया जाए। सबसे ज्यादा पाकिस्तानी डॉक्टर सऊदी अरब में हैं।

सऊदी अरब में महिलाओं को लेकर के काफी कड़े नियम थे पर अब धीरे-धीरे इसमें ढील दी जा रही है। साल 2012 में उन्हें खेलों में भाग लेने का अधिकार मिला। साल 2015 में उन्हें वोट डालने का अधिकार दिया गया।

बिहार फाउंडेशन के सऊदी अरब चैप्टर ने इस साल फिर से बड़े पैमाने पर 'बिहार दिवस' मनाने की योजना बनाई है। आयोजन के मुख्य अतिथि के रूप में सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार को आमंत्रित किया गया है।

सऊदी अरब एयरलाइन के एक विमान को अंतिम क्षण पर उड़ान भरने से रुकना पड़ा क्योंकि एक महिला यात्री हवाईअड्डे पर अपने बच्चे को भूल गई थी।

पाकिस्तान और भारत की यात्रा के बाद सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान गुरूवार को चीन पहुंचे। वहां उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से शुक्रवार को मुलाकात की।