shakib al hasan

शाकिब ने अपने देश के लिए 56 टेस्ट मैच खेले हैं। इसके अलावा उन्होंने अपने देश के लिए 206 वनडे और 76 टी-20 मैच खेले हैं। पिछले साल इंग्लैंड में हुए विश्व कप में उन्होंने टीम के लिए दमदार प्रदर्शन किया था।

पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा और शाकिब अल हसन को बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के सेंट्रल कांट्रेक्ट लिस्ट से बाहर कर दिया गया है। यह लिस्ट तीन कटेगरी में जारी की गई है।

बांग्लादेश की 15 सदस्यीय टीम बुधवार को यहां दिल्ली पहुंच गई जबकि एक दिन पहले ही उनके हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब पर सट्टेबाजी की पेशकश की जानकारी नहीं देने के कारण आईसीसी द्वारा दो साल का प्रतिबंध (एक साल का निलंबित प्रतिबंध) लगाया गया है।

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग के एक नियम में बदलाव किया है जिसके अंतर्गत हर बीसीएल टीम को प्लेइंग इलेवन में कम से एक एक लेग स्पिनर को शामिल करना अनिवार्य किया गया है।

बांग्लादेश को इस विश्व कप के अपने आखिरी मैच में शुक्रवार को पाकिस्तान से 94 रनों से हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में भी शाकिब ने 64 रनों की पारी खेली। इसी के साथ वह इस विश्व कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बने।

शाकिब ने गेंद से 10 ओवर में महज 29 रन देकर पांच विकेट लिए जबकि बल्लेबाजी के दौरान उन्होंने 51 रनों की पारी खेली। उन्हें 'मैन ऑफ द मैच' भी चुना गया। उनके इस बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत बांग्लादेश ने यह मुकाबला 62 रनों से जीता।

शाकिब (51) को आउट करके मुजीब उर रहमान ने विपक्षी टीम को तीसरा झटका दिया। सौम्य सरकार (3) भी ज्यादा देर नहीं टिक पाए और मुजीब को अपना विकेट दे बैठे।

दुनिया के नंबर-1 हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब के अब चार मैचों में 384 रन हो गए हैं। उन्होंने आस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच को इस स्थान से अपदस्थ किया है। फिंच के 343 रन हैं।

यह बांग्लादेश की रनों का पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत है, जबकि विश्व कप में रनों का पीछा करते हुए दूसरी सबसे बड़ी जीत। इस पारी के साथ शाकिब इस विश्व कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं। उनके अब 382 रन हो गए। शाकिब ने इस मैच में दो विकेट भी अपने नाम किए और इसी कारण वह मैन ऑफ द मैच चुने गए।

नई दिल्ली। इंग्लैंड में 30 मई से शुरू होने वाले विश्व कप में सूखी पिचें और गर्मी भरा मौसम रहेगा...