Shivraj Singh Chauhan

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान और राज्सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ग्वालियर प्रवास के दौरान कई कार्यक्रमों में शिरकत की। इस दौरान दोनों ने दोपहर का भोजन सफाईकर्मी रामसेवक के घर किया। यहां देखें तस्वीरें...

Bhopal: बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अपने बयानों की वजह से लगातार सुर्खियों में रही है। वह लगातार खुलकर उन चीजों का विरोध कर रही हैं जो उन्हें पसंद नहीं आती है। वहीं कंगना रनौत फिल्म धाकड़ की शूटिंग में भी व्यस्त हैं। इससे पहले कंगना ने अपना धाकड़ लूक भी जारी किया था। अब अभिनेत्री अपनी इस फिल्म की शूटिंग के लिए मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल पहुंची हैं। कंगना की फिल्म धाकड़ की शूटिंग मध्य प्रदेश के भोपाल, पचमढ़ी और बैतूल में होना है।

Love Jihad: लव जिहाद (Love Jihad) और धर्मांतरण को लेकर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने जो टिप्पणी की वह काफी तल्ख थी। शिवराज सिंह चौहान ने एक सभा में बहुत ही तल्ख लहजे में कहा कि सरकार की नजर मे सभी धर्म और जाति एकसमान है। यह सरकार हर जाति धर्म की सरकार है।

Madhyapradesh By-Election: दिनेश गुर्जर (Dinesh Gujjar) ने एक चुनावी सभा में सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के लिए जिन शब्दों का प्रयोग किया वह बेहद आपत्तिजनक था। हालांकि शिवराज सिंह चौहान ने भी एक जनसभा में उनके इस बयान का बड़े सधे अंदाज में जवाब दे दिया।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा, उच्चतम न्यायालय में (कांग्रेस ने) हलफनामा देकर कहा कि भगवान राम कभी पैदा ही नहीं हुए, यह एक कोरी कल्पना है।

इस बंटवारे में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सामान्य प्रशासन, जनसंपर्क, विमानन, नर्मदा घाटी विकास और ऐसे अन्य विभाग जो किसी मंत्री को नहीं सौंपे गए हैं, अपने पास रखे हैं।

उत्तर प्रदेश का मोस्ट वांटेड गैंगस्टर और कानपुर में आठ पुलिस जवानों की हत्या के आरोपी विकास दुबे को गुरुवार की सुबह मध्य प्रदेश के उज्जैन की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इसकी गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

पूर्व कांग्रेस नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस के किसी नेता का नाम लिए बगैर हमला बोला।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश के लोगों से कहा है कि मैं प्रदेशवासियों से अपील करता हूं कि देशभक्ति के भाव से भरकर चीन में बने सभी सामानों का बहिष्कार करें।

स्कूलों को खोलने को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग अब केंद्र की गाइडलाइन का इंतजार कर रहा है। दूसरे बोर्ड के जारी दिशा निर्देशों का आंकलन करके एक गाइडलाइन तैयार करेगा।