Shivsena

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी और सेंट्रल गवर्नमेंट में उच्चस्तरीय पदाधिकारियों से कहा है कि एनडीए का दूसरा सबसे बड़ा सहयोगी दल होने के नाते शिवसेना का डिप्टी स्पीकर पोस्ट पर स्वाभाविक दावा बनता है।

पार्टी से लंबे समय से नाराज चल रहे बीड के विधायक क्षीरसागर के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से बातचीत करने की खबरें आ रही थीं, लेकिन बुधवार तड़के उन्होंने आखिरकार शरद पवार की  एनसीपी छोड़ शिवसेना में शामिल होने का संकेत दे दिया। शिवसेना प्रदेश सरकार में सहयोगी पार्टी है।

प्रेस कांफ्रेंस हो या फिर टीवी पर डिबेट, कई जगहों पर कांग्रेस का पक्ष मजबूती से रखने वाली प्रियंका चतुर्वेदी अब कांग्रेस का साथ छोड़ चुकी हैं। उन्होंने कांग्रेस से इस्तीफा देकर शिवसेना का दामन थाम लिया है।

मोदी कर्नाटक और तमिलनाडु में रैली को संबोधित करने पहुंचेंगे। लातूर में चुनाव मैदान में 10 उम्मीदवार हैं लेकिन मुख्य मुकाबला कांग्रेस-भाजपा के बीच में है।

महाराष्ट्र में नौ आरक्षित सीटें हैं, जिनमें अनुसूचित जाति के अंतर्गत रामटेक, अमरावती, लातूर, सोलापुर, शिरडी और अनुसूचित जनजाति के अंतर्गत गढ़चिरौली-चिमुर, ढिंढोरी, पालघर, नंदुरबार शामिल हैं।

देश के दूसरे सबसे बड़े सियासी राज्य महाराष्ट्र की 48 सीटों के लिए एबीपी न्यूज के साथ नीलसन ने सर्वे किया है। महाराष्ट्र में एनडीए के 48 में से 37 सीटों पर जीत हासिल करने की संभावना है जबकि यूपीए को 11 सीटों पर कब्जा मिल सकता है। ये प्रदर्शन यूपीए के लिए पिछली बार के मुकाबले अच्छा रह सकता है।

अपनी पार्टी और भाजपा के बीच रिश्तों के बारे में बात करते हुए शिवसेना सांसद ने कहा कि, "हमारी पार्टी ने सरकार का हरसंभव सहयोग करने की कोशिश की, 'चुनाव तो आते-जाते रहते हैं, जीत-हार होती रहती है। उम्मीद है कि एक बार फिर बहुमत से एनडीए सरकार बने। लेकिन विपक्ष भी मजबूत बना रहे।"

नई दिल्ली। भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में डांस बार को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है।...

नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव में गठबंधन नहीं होने की स्थिति में पूर्व सहयोगियों को भी हराने के बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के...

नई दिल्ली। पिछले दिनों फिल्म अभिनेता नसीरुद्दीन शाह द्वारा भीड़ की हिंसा पर दिए गए बयान से काफी बवाल मचा...