Silver

बुधवार को सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट देखने को मिल रही है। पिछले सत्र के तेज नुकसान के चलते इन दोनों ही कीमती धातुओं की घरेलू और वैश्विक कीमतों में बुधवार सुबह गिरावट देखी गई है।

वैश्विक स्तर पर मंगलवार को सोने और चांदी के भाव में बढ़त देखने को मिली है।

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर कच्चे तेल का अप्रैल अनुबंध बुधवार को पिछले सत्र से 61 रुपये यानी 3.63 फीसदी लुढ़ककर 1,619 रुपये प्रति बैरल पर बंद हुआ जबकि दिनभर के कारोबार दौरान कच्चे तेल का भाव 1,550 रुपये प्रति बैरल तक गिरा।

अमेरिका और ईरान के बीच फिर फौजी तनाव गहराने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बुलियन और क्रूड के दाम में आए उछाल के बाद भारतीय वायदा बाजार एमसीएक्स पर भी बुधवार को सोना-चांदी और कच्चे तेल के वायदा सौदों में जोरदार तेजी आई।

मंदी की आहट के चलते सोने-चांदी की कीमतों में तेजी देखने को मिली और गुरुवार को दोनों धातुओं के भाव ने एक नया रिकॉर्ड बनाया। सोने का भाव 40 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम के पार चला गया, वहीं चांदी की कीमत 50 हजार रुपये के करीब पहुंच गई है।

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार कॉमेक्स पर सोने के अगस्त अनुबंध में 2.85 डॉलर की कमजोरी के साथ 1,418.85 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले के कारोबार के दौरान सोने का भाव 1,422.85 डॉलर से लेकर 1,316.75 डॉलर प्रति औंस के दायरे में रहा।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, इस साल जून में भारत ने करीब 2.70 अरब डॉलर का सोना आयात किया जबकि एक साल पहले जून 2018 में देश में करीब 2.39 अरब डॉलर का सोना आयात हुआ था।

आम बजट में महंगी धातुओं पर आयात शुल्क में 2.5 फीसदी की वृद्धि की घोषणा के बाद सोने के दाम में जबरदस्त तेजी आई है और पीली धातु का भाव घरेलू वायदा बाजार में बीते सप्ताह गुरुवार को सबसे ऊंचे स्तर 35,145 रुपये प्रति 10 ग्राम पर चला गया।

पिछले सप्ताह आम बजट 2019-20 संसद में पेश करते हुए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने महंगी धातुओं पर सीमा शुल्क 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.50 फीसदी करने की घोषणा की। केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि सोने और चांदी में आई हालिया तेजी विदेशी बाजार से प्रेरित है जहां अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के प्रमुख जेरोम पॉवेल द्वारा आगे ब्याज दरों में कटौती का संकेत देने से महंगी धातुओं में तेजी का रुझान बना हुआ है।

घरेलू वायदा बाजार में इस सप्ताह सोने और चांदी के भाव में जोरदार तेजी रही, जबकि अमेरिका में गैर-कृषि क्षेत्र में नौकरियां बढ़ने के आंकड़े आने के बाद विदेशी बाजार में बुलियन में नरम कारोबार रहा।