Skin Care

मानसून में ज्यादातर त्वचा संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है। किसी को रूखी त्वचा तो किसी को तैलीय त्वचा की परेशानी झेलने पड़ती है। क्योंकि बदलते मौसम का असर सबसे पहले हमारी त्वचा पर पड़ता है।

दुनिया में आजकल अधिकतर संख्या में लोग ऑर्गेनिक या वेगन ब्यूटी प्रोडक्ट्स की मांग कर रहे हैं क्योंकि हानिकारक केमिकल्स का उनकी त्वचा पर कितना खराब असर पड़ता है इसे लेकर वे निरंतर जागरूक हो रहे हैं।

गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है, और इस मौसम की शुरुआत में ही त्वचा संबंधी समस्‍याएं भी शुरू हो जाती है। ऐसे में हमें अपनी स्किन का खास ख्‍याल रखना पड़ता है।

ऑयली स्किन होना आम बात है, लेकिन जरूरत से ज्यादा ऑयल आपकी त्वचा और चेहरे को ख़राब कर सकता है। जी हां, जयादा ऑयली स्किन से आपके चेहरे पर मुहांसे की परेशानी शुरू हो सकती है और आपके स्किन के ओपन पोर्स भी बंद हो जाते है।

कॉलेज का दौर त्वचा के लिए काफी कठिन वक्त होता है। त्वचा की उचित देखभाल अक्सर इस समय में अनदेखी की जाती है, खासकर तब जब हम अपने दोस्तों के साथ सूरज की किरणों में बाहर निकलते हैं, यह हमारी त्वचा को बुरी तरह प्रभावित करता है। ऐसे में छात्र अपनी त्वचा के लिए शॉर्टकट और कभी-कभार सैलून उपचार लेते हैं।"

गर्मियों का दिन आते ही लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बार-बार प्यास लगना, कड़ी धूप से कहीं ना कहीं जीवनशैली अव्यवस्थित हो जाती है।

नई दिल्ली। पतझड़ के बाद वसंत पंचमी के आगमन के साथ ही चारों ओर हरियाली और खुशहाली का वातावरण छा...