skin care tips

मानसून में ज्यादातर त्वचा संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है। किसी को रूखी त्वचा तो किसी को तैलीय त्वचा की परेशानी झेलने पड़ती है। क्योंकि बदलते मौसम का असर सबसे पहले हमारी त्वचा पर पड़ता है।

गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है, और इस मौसम की शुरुआत में ही त्वचा संबंधी समस्‍याएं भी शुरू हो जाती है। ऐसे में हमें अपनी स्किन का खास ख्‍याल रखना पड़ता है।

ऑयली स्किन होना आम बात है, लेकिन जरूरत से ज्यादा ऑयल आपकी त्वचा और चेहरे को ख़राब कर सकता है। जी हां, जयादा ऑयली स्किन से आपके चेहरे पर मुहांसे की परेशानी शुरू हो सकती है और आपके स्किन के ओपन पोर्स भी बंद हो जाते है।

कॉलेज का दौर त्वचा के लिए काफी कठिन वक्त होता है। त्वचा की उचित देखभाल अक्सर इस समय में अनदेखी की जाती है, खासकर तब जब हम अपने दोस्तों के साथ सूरज की किरणों में बाहर निकलते हैं, यह हमारी त्वचा को बुरी तरह प्रभावित करता है। ऐसे में छात्र अपनी त्वचा के लिए शॉर्टकट और कभी-कभार सैलून उपचार लेते हैं।"

फेशियल हेयर या चेहरे के बालों से हर कोई छुटकारा पाना चाहता है। वैक्सिंग और थ्रेडिंग से इन्हें हटाया तो जा सकता है, लेकिन कुछ समय बाद ये फिर वापस आ जाते हैं। लंबे समय तक इन्हें दूर रखने के लिए घरेलू और प्राकृतिक नुस्खे ही ज्यादा कारगर होते हैं और तो और इन उपायों से इनका ग्रोथ भी काफी कम हो जाता है।

रंगों के त्योहार होली का सबको काफी इंतजार है और हो भी क्यों ना? लोग इस त्योहार में सबकुछ भूलकर एक दूसरे की खूशी में शामिल हो जाते है और रंगो के इस उत्सव में पूरी तरह से खो जाते है।

त्वचा की गड़बड़ी, रंग खराब होना, जलन, खुजली और खुश्की आदि शामिल हैं। होली के रंग में मौजूद कठोर रसायन खुजली और जलन का कारण बन सकते हैं और खुजली करने पर ये एक्जीमा का रूप ले सकते हैं और यह रंगों से होने वाली सबसे आम किस्म की प्रतिक्रिया है।