SP

पार्टी का एक धड़ा चुनाव लड़ने की सलाह दे रहा है तो दूसरा धड़ा इस चुनाव से तौबा कर सीधे वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में तैयारी के साथ आने की बात कर रहा है। इस पर निर्णय मायावती को लेना है, मगर वह अभी इस मामले पर चुप हैं।

दिसंबर, 1992 में विवादित ढांचा विध्वंस करने के बाद से मुसलमानों के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अछूत हो गई थी। समाजवादी पार्टी (सपा), कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने इसका भरपूर लाभ उठाया, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मुस्लिमों ने फैसले को कुबूल कर लिया, दोनों ने गलबहियां भी कीं। इससे विपक्ष के सामने बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है।

उत्तर प्रदेश के ग्रामीण विकास मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर कुछ अपमानजक टिप्पणी की है।

उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर हुए उपचुनाव के परिणाम घोषित हो गए हैं। इसमें भाजपा ने 8 और सपा ने 3 सीटों पर जीत दर्ज की है। समाजवादी पार्टी ने रामपुर के अलावा जलालपुर और जैदपुर पर सीट जीतकर अपने विधायकों की संख्या में इजाफा किया है

प्रशासन ने रामपुर के अलग-अलग जगह से छह फर्जी मतदान एजेंटों को हिरासत में ले लिया है। इसके साथ ही रामपुर के रज़ा डिग्री कॉलेज से भी दो फर्जी एजेंट पकड़े गए हैं।

लखनऊ कैंट और जलालपुर इन दोनों ही सीटों पर 13-13 प्रत्याशी मुकाबले में हैं। लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद ही यूपी की 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना तय हो गया था।

आजम खान पर 80 से ज्यादा मुकदमे दर्ज किए गए हैं। इनमें से मौलाना अली जौहर विश्वविद्यालय से संबंधित 30 मुकदमे हैं जिसमें गरीबों की जमीन हड़पने का आरोप है।

पुलिस ने नाहिद हसन के खिलाफ 4 मामलों में गैर जमानती वारंट हासिल किया है। उनकी धरपकड़ के लिए कैराना से लेकर लखनऊ व इलाहाबाद तक टीमें सक्रिय हैं। पुलिस ने 11 टीमें लगा रखी हैं।

उत्तर प्रदेश के विधानसभा उपचुनावों को लेकर सभी पार्टियों ने तैयारियां तेज कर दी हैं। इसी क्रम में रविवार को समाजवादी पार्टी ने दस प्रत्याशियों के नाम घोषित किए हैं।

बसपा और कांग्रेस के मुस्लिम प्रत्याशी उतारने के कारण मुस्लिम वोटों का बंटवारा हो सकता है। भाजपा को बढ़त भी मिल सकती है, लेकिन लोकसभा चुनाव में एक खास बात देखने को मिली है कि मुस्लिमों ने उन्हें पसंद किया है।