Sushil Kumar Shinde

माजिद मेमन ने कहा कि शरद पवार अपना अस्तित्व बिल्कुल नहीं खोना चाहते हैं। अगर कांग्रेस एनसीपी में अपना विलय करना चाहती है तो कर सकती है।

कांग्रेस इन दिनों भीतरी कलह से जूझ रही है। लोकसभा चुनाव में भारी हार के बाद कांग्रेस के भीतर काफी उथल-पुथल मची हुई है। पहले राहुल गांधी ने अध्यक्ष का पद छोड़ा और उनकी मां सोनिया ने उसे संभाल लिया।

सोनिया गांधी को कांग्रेस नेताओं ने एक बार फिर से पार्टी की बागडोर सौंप दी है। 72 दिन यानी करीब ढाई महीने की उहापोह की स्थिति के बाद सोनिया गांधी को फिर से कांग्रेस का सिरमौर बनाया गया है।

कांग्रेस अध्यक्ष पद पर फैसला के लिए शनिवार को कांग्रेस वर्किंग कमिटी (CWC) की बैठक रात 8 बजे दोबारा होगी। इसमें राहुल गांधी के उत्तराधिकारी पर फैसला लिया जाएगा।

नया कांग्रेस अध्यक्ष चुनने के लिए जोन के हिसाब से पांच नेताओं की टीम बनाई गई है, जिसमें सोनिया गांधी और राहुल गांधी के भी नाम शामिल थे। लेकिन सोनिया ने इस बात पर ऐतराज जताया और खुद को और राहुल को इस कमेटी से अलग कर लिया।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के सोलापुर से कांग्रेस की विधायक और पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की बेटी परिणीति...

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यक्रम में शामिल होने के आमंत्रण को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वीकारने को लेकर...