Sushma Swaraj

भारतीय राजनीति में इस साल कुछ घटनाएं ऐसी हुईं, जिनका जब भी जिक्र होगा तो 2019 की याद हमेशा आएगी। 2020 का स्वागत करने के साथ ही इन घटनाओं को भी याद करना जरूरी होगा। साल 2019 में एनडीए गठबंधन को फिर से केंद्र की सत्ता मिल गई लेकिन भाजपा के कई दिग्गज नेताओं को खोने का दुःख भी इस साल पार्टी के हिस्से में आया। पार्टी को इससे बड़ा झटका लगा।

साल 2019 में एनडीए गठबंधन को फिर से केंद्र की सत्ता मिल गई लेकिन भाजपा के कई दिग्गज नेताओं को खोने का दुःख भी इस साल पार्टी के हिस्से में आया।

सुषमा स्वराज ने अपनी सर्जरी को लेकर कही थी ये बात

स्वराज कौशल ने बताया कि एम्स के डॉक्टर सुषमा के किडनी ट्रांसप्लांट की सर्जरी को भारत में करने के लिए तैयार नहीं थे। लेकिन वह नहीं मानी और विदेश जाने से साफ इंकार कर दिया।

साल्वे ने हेग स्थित अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में जाधव मामले की सुनवाई के दौरान भारत का प्रतिनिधित्व 1 रुपये की फीस पर किया था। लेकिन हरीश साल्वे को उनकी फीस मिलने से पहले ही सुषमा स्वराज का निधन हो गया था। अब हरीश साल्वे को उनकी फीस मिल गई है।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए प्रज्ञा ठाकुर ने साधु द्वारा कही गई बात का ब्यौरा देते हुए कहा, "महाराज जी ने कहा था, मारक शक्ति का निश्चित रूप से भाजपा के कर्मठ, योग्य और ऐसे लोग जो भाजपा को संभालते हैं, उन पर असर पड़ेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि, 'एक व्यवस्था के अंतर्गत जो भी काम मिले, उसे जी जान से करना और व्यक्तिगत जीवन में बड़ी ऊंचाई मिलने के बाद भी करना, ये बीजेपी के कार्यकर्ताओं के लिए सुषमा जी की बहुत बड़ी प्रेरणा है।'

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह भारत और पूरी दुनिया की महिलाओं के लिए चैंपियन थीं।

लाल जोड़े और पूरे राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुईं सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज के निधन पर योगी आदित्यनाथ ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि