Tennis

पूर्व वल्र्ड नंबर-24 जैमी होम्पटन ने पेशेवर टेनिस को अलविदा कह दिया है। 30 साल की इस महिला खिलाड़ी ने पांच आईटीएफ खिताब जीते हैं। बीते पांच साल से वह चोटों से जूझ रही हैं। 2014 और 2015 में 18 महीनों के दौरान उन्होंने छह सर्जरियां कराई थीं जिसमें से दो हिप सर्जरियां भी हैं।

डब्ल्यूटीए ने एक बयान में कहा है, "डब्ल्यूटीए टूर के 12 जुलाई तक के निलंबन के ऐलान के बाद, बास्टाड, लुसाने, बुखारेस्ट और जुरमाला में जुलाई में होने वाले टूर्नामेंट कोविड-19 के कारण नहीं होंगे।"

इस बीच, नडाल की मालोर्का स्थित अकेडमी ने इस महीने की शुरूआत में कहा था कि कोरोनावायरस महामारी के बीच वह डब्ल्यूटीए और एटीपी सर्किट में पेशेवर खिलाड़ियों तक पहुंचने की योजना बना रही है।

कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण रोजर्स कप को टालने का फैसला किया गया है।

इस सयम फैली भयंकर बीमारी कोरोनावायरस के कारण यह फैसला लिया गया है। 1945 के बाद से यह पहली बार है कि यह टूर्नामेंट रद्द किया गया है। इससे पहले दूसरे विश्व युद्ध के दौरान इसे रद्द किया गया था।

टेनिस से संन्यास लेने के बाद शारापोवा ने ट्विटर पर लिखा, "टेनिस ने मुझे दुनिया दिखाई और इसने मुझे बताया कि मैं किस चीज की बनी हूं। इससे मैंने अपने आप की परीक्षा ली और मैंने अपने प्रगति को मापा। इसलिए मैं अपने जीवन के अगले अध्याय में चाहे कोई भी राह चुनूं, मैं हमेशा मेहनत करती रहूंगी, आगे बढ़ती रहूंगी और बेहतर होती रहूंगी।"

सेमीफाइनल में आने के लिए फेडरर को कड़ा पसीना बहाना पड़ा था। अमेरिका के टैनी सैंडग्रेन ने पांच सेट तक चले मैच में उन्हें काफी परेशान किया था। फेडरर हालांकि विजयी रहे और अंतिम-4 में पहुंचे थे।

वर्ल्ड नंबर-1 एश्लेग बार्टी ने आस्ट्रेलियन ओपन में महिला एकल के सेमीफाइनल में पहुंचकर इतिहास रच दिया है। बार्टी 36 वर्षों में सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली आस्ट्रेलियाई महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

किस्मत के सहारे मुख्य ड्रॉ में पहुंचने वाले भारत के टेनिस खिलाड़ी प्रजनेश गुणेश्वरन को यहां जारी साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन ओपन में पुरुष एकल के अपने पहले ही दौर में मंगलवार को हार का सामना करना पड़ा।

भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा और उनकी यूक्रेन की जोड़ीदार नादिया किचेनोक ने गुरुवार को होबार्ट इंटरनेशनल टूर्नामेंट के महिला युगल वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। सानिया और नादिया ने वानिया किंग और क्रिस्टियन मैक्हेल की अमेरिकी जोड़ी को 6-2, 4-6, (10-4) से हरा अंतिम-4 में जगह बनाई।