Tihar jail

दिल्ली में जिस्मफरोशी का सबसे बड़ा रैकेट चलाने वाली सोनू पंजाबन ने जेल में खुदकुशी करने की कोशिश की। हालांकि अब उसकी हालत ठीक बताई जा रही है।

मशहूर मॉडल जेसिका लाल की 29 अप्रैल 1999 की रात दिल्ली के टैमरिंड कोर्ट रेस्टोरेंट में गोली मारकर केवल इसलिए हत्या कर दी गई थी, क्योंकि  उन्होंने शराब परोसने से मना कर दिया था।

नई दिल्ली। दिल्ली में अब कोई भी जेल कोरोना से ‘कोरी’ नहीं बची है। राष्ट्रीय राजधानी में तीन जेल तिहाड़,...

निर्भया के चारों गुनहगारों की आखिरी रात बेहद बेचैनी से भरी हुई थी। गुनहगार खाते वक़्त भी बेचैन थे। मुकेश और विनय ने खिचड़ी खाई। जबकि दूसरे गुनहगार पवन और अक्षय रात बेचैनी में रात भर सो नहीं सके। सारे गुनहगार रात भर जागकर पुलिसकर्मियों से पूछते रहे कि क्या कोर्ट से कोई नया ऑर्डर आया है?

निर्भया के साथ एकजुटता दिखाने और सात साल बाद उसे मिले न्याय को लेकर खुशी जाहिर करने के लिए कोविड-19 संक्रमण का भय भी तिहाड़ के बाहर लोगों को इकट्ठा होने से नहीं रोक सका। निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड के चारों दोषियों को तिहाड़ जेल में शुक्रवार सुबह ठीक 5.30 बजे फांसी दे दी गई।

बुधवार को तिहाड़ में जल्लाद पवन द्वारा 'डमी-ट्रायल' किये जाने की पुष्टि आईएएनएस से बातचीत में दिल्ली जेल के अपर महानिरीक्षक राज कुमार ने की।

निर्भया के गुनहगार अब अपने अंजाम पर पहुंचने ही वाले हैं। इस बात के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। तिहाड़ प्रशासन ने सभी गुनाहगारों को आखिरी चिट्ठी लिखी है। यह चिट्ठी इनके परिवार से अंतिम मुलाकात के लिए है।

निर्भया के हत्यारों को फांसी पर टांगने के लिए लिए गुरुवार को पवन जल्लाद तिहाड़ जेल पहुंच जाएगा। अब तक पूरी हुई कानूनी प्रक्रिया में अगर कोई बदलाव नहीं हुआ तो, एक फरवरी को सुबह छह बजे चारों मुजरिम फांसी के फंदे पर लटका दिए जाएंगे।

1 फरवरी को निर्भया गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा। जिसको लेकर तिहाड़ जेल प्रशासन ने दोषियों के परिजनों को लिखित में फांसी की सूचना दी है। तिहाड़ प्रशासन की तरफ से पत्र में लिखा गया है कि दोषियों को 1 फरवरी की सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा।

निर्भया के चारों दोषियों की फांसी का दिन आखिरकार तय हो गया। अब इन्हें 1 फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी। बता दें, पहले 22 जनवरी को फांसी का ऐलान किया गया था।