trading

शेयर बाजार में बुधवार को बिकवाली के दबावों में प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1000 अंक से ज्यादा लुढ़का और निफ्टी में भी तीन फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई।

 कोरोना के कहर से उत्पन्न संकट के दौर में पीली धातु में कुछ ज्यादा निखार आने की संभावना दिख रही है। बाजार के जानकारों की माने तो निकट भविष्य में भारत में सोना 50,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर सकता है।

विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों से मंगलवार को घरेलू शेयर बाजार में बढ़ी लिवाली के कारण प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1000 अंकों से ज्यादा के उछाल के साथ 29500 के ऊपर चढ़ा, जबकि निफ्टी 300 अंकों की बढ़त के साथ 8,600 के ऊपर तक उछला।

घरेलू शेयर बाजार में शुक्रवार को तेजी के रुझानों के बीच सेंसेक्स आरंभिक कारोबार में 200 अंकों से ज्यादा उछला और निफ्टी ने भी करीब 70 अंकों की बढ़त बनाई।

कमजोर विदेशी संकेतों के बावजूद घरेलू शेयर बाजार में मंगलवार को शुरुआती कारोबार के दौरान तेजी का माहौल बना रहा। प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 144.56 अंकों की तेजी के साथ 41,299.69 पर खुला और 41,313.63 तक उछला।

पश्चिम एशिया में संकट के असर से सोमवार को भी शेयर बाजार भी प्रभावित दिखा। आईटी के अलावा सभी सेक्टर लाल निशान में हैं। वहीं सोमवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 246 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 41,218 पर खुला। थोड़ी ही देर में सेंसेक्स 496 अंक तक गिर गया।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को चीन से आयातित 200 अरब डॉलर मूल्य की वस्तुओं पर आयात शुल्क 10 फीसदी से बढ़ाकर 25 फीसदी करने का फैसला लिया। 

नई दिल्ली। चीन और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय व्यापारिक मसलों का हल करके आपसी तनाव को खत्म करने के मकसद...

नई दिल्ली। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने मंगलवार को कहा कि भारत के पास जल्द ही ऊर्जा व्यापार की मौजूदा...