trump

कुओमो ने शनिवार को कहा कि लॉन्ग आइलैंड और मिड-हडसन अगले हफ्ते फिर से खुल सकते हैं। हालांकि, न्यूयॉर्क सिटी राज्य का एकमात्र ऐसा क्षेत्र बन जाएगा, जहां कुछ समय के लिए प्रतिबंध लागू रहेंगे।

Moderna Inc. ने दावा किया है कि उसका पहला ट्रायल सफल हुआ है। इसकी वैक्सीन के जरिए शरीर में एंटीबॉडीज बन रही हैं, जो कोरोना वायरस के हमले को काफी कमजोर बना देती हैं।

अमेरिका और चीन के बीच वैश्विक महामारी कोरोनावायरस को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों ही देशों की तरफ से लगातार जुबानी जंग चल रही है।

कोरोनावायरस के बाद सबके निशाने पर आए चीन की घेराबंदी की तैयारी पूरी हो चुकी है। जिस वायरस ने पूरी दुनिया के हेल्थ और इकॉनॉमिक सिस्टम को हिला कर रख दिया है।

अब तक अमेरिकी सरकार के स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने जनवरी 2021 तक कोविड-19 वैक्सीन उपलब्ध होनी की बात कही है। ट्रंप ने कहा कि उनका मानना है देश के पास जल्द ही वैक्सीन होगी।

अमेरिका ने कोविड-19 से पहले भी चीन के खिलाफ व्यापार पाबंदी लगाने की पूरी कोशिश की। अब वैश्विक मुसीबत की घड़ी में भी ट्रंप चीन के साथ उलझने से बाज नहीं आ रहे हैं।

गौरतलब है कि 25 अप्रैल, 1945 को एल्बे डे कहा जाता है। इस दिन सोवियत और अमेरिकी सैनिक जर्मनी में तोर्गाऊ के पास एल्बे नदी पर मिले थे। इसे यूरोप में द्वितीय विश्व युद्ध के अंत की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम माना जाता है।

पिछले हफ्ते अमेरिकी नौसेना ने कहा था कि इस्लामिक रेवोल्यूशन गार्ड कॉर्प्स (आईआरजीसी) के 11 ईरानी नेवी के जहाजों ने उत्तरी अरब की खाड़ी के अंतर्राष्ट्रीय पानी (इंटरनेशनल वाटर्स) में चलने वाले अमेरिकी नौसैनिक जहाजों के खिलाफ बार-बार खतरनाक संचालन किया।

दरअसल चीन में वुहान की जिस वायरोलॉजी लैब को शोध करने के लिए अमेरिका फंड करता है, उसी लैब पर दुनिया को शंका है कि यहा से कोरोना लीक हुआ है।

हले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उनके देश ने कोरोनावायरस की महामारी से लड़ने के लिए हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन की 2.9 करोड़ खुराक खरीदी है, जिसमें भारत की बहुत बड़ी हिस्सेदारी है।