UP Board

शिक्षा विभाग संभालने वाले उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के एक वरिष्ठ अधिकारी को भी नोडल अधिकारी नामित किया गया है, ताकि छात्रों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद(यूपी बोर्ड) हाईस्कूल की तर्ज पर इंटरमीडिएट के विद्यार्थियों को भी कंपार्टमेंट की सुविधा देने की तैयारी में है।

कुछ स्कूलों के एसआर रजिस्टरों की जांच जिला विद्यालय स्वयं करेंगे। जिससे स्कूलों में किसी प्रकार से कोई फर्जी पंजीकरण न हो सके।

परीक्षाओं के सीजन के बाद छात्रों को अपने रिजल्ट का बेहद खास इंतजार होता है। इस रिजल्ट से उनके आने वाले भविष्य का निर्माण होता है।

परीक्षा के सीजन के बाद अब आया है परिणामों का सीजन। ऐसे में छात्र जमकर अपने परिणाम का इंतजार कर रहे है। यूपी बोर्ड के चार क्षेत्रीय कार्यालयों मेरठ, वाराणसी, बरेली और गोरखपुर के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का परिणाम तैयार हो गया है।

उत्तर प्रदेश बोर्ड जल्द ही 10 और बारहवीं का रिजल्ट जारी करने वाला है। खबरों की माने को इस बार एक ही दिन 10वीं और 12वीं का रिजल्ट घोषित किया जा सकता है। बता दें कि पहले 15 अप्रैल के आसपास परिणाम (UP Board 10th & 12th Result) जारी होना था।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं गुरुवार से शुरू हो गई हैं। इस साल 58 लाख से ज्यादा विद्यार्थी परीक्षा देंगे। पहली बार सभी जिलों में कोडयुक्त कॉपियां भेजी गई हैं। परीक्षार्थी को हर पन्ने पर अपना रोल नंबर लिखना होगा।