UP

लॉकडाउन के बीच यूपी के मेरठ प्रशासन ने एक बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के तहत मेरठ जिले में 25 मई तक धारा 144 लागू कर दी गई है।

सोशल मीडिया पर एक और कविता वायरल हो रही है जिसमें आमिर अजीज की उस कविता का जवाब दिया गया है। पहले आप उस कविता को सुनिए...जिसमें लिखा गया है "तुमसे सब याद रखा जाएगा?..."

आजम खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। जल निगम भर्ती घोटाले की जांच में आजम दोषी करार दिए गए हैं।योगी सरकार ने आजम की अगुवाई में सपा सरकार में हुई JE व क्लर्क की भर्तियां रद्द कर दी हैं।

अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर के निर्माण की कोर टीम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दो प्रमुख सिपहसालार शामिल होंगे। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए गठित राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में यूपी के  इन दो आईएएस अफसरों को शामिल किया जाना तय है।

इस तरह से मेरठ के आईजी और एडीजी का भी रोल घट गया है। अब दोनों कमिश्नरों का सुपरविजन डीजीपी करेंगे। नोएडा में कोई ग्रामीण थाना नहीं होगा। नोएडा में पूरा क्षेत्र कमिश्नर के अधीन होगा।

पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए प्रवासियों को नए नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के तहत नागरिकता देने के लिए सूचीबद्ध करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बनने की तैयारी में है। यह कवायद उन लोगों की भी पहचान करेगी जो राज्य में अवैध रूप से रह रहे हैं।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) विरोधी प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा से पीड़ित कई परिवारों से यहां शनिवार को मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि मौलाना असद ने मुझे बताया कि पुलिस ने मदरसे के अंदर घुसकर छात्रों को बेरहमी से पीटा और फिर बच्चों को जेल में डाल दिया। प्रियंका शनिवार को सीधे मौलाना असद के घर पहुंचीं, जहां उन्होंने पीड़ितों से बात की।

उत्तर प्रदेश में एक बार बिजली के दाम बढ़ाए जाने को लेकर खलबली मच गई थी। यूपी पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड ने बिजली के दाम प्रति यूनिट 66 पैसे बढ़ा दिए। हालांकि, मामला संज्ञान में आने पर नियामक आयोग ने कोर्ट में याचिका दायर खिल की और बढ़े हुए दामों पर रोक लगा दी।

मेरठ में 20 दिसम्बर शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद एनआरसी के विरोध को लेकर बवाल हो गया था। इसी दौरान मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण उपद्रव करने वालों पर आग बबूला हो गए थे।

मेरठ में एसपी ने लोगों को एक ऐसी धमकी दी है जिसके बाद हंगामा मच गया है। मेरठ में 20 दिसम्बर शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद एनआरसी के विरोध को लेकर बवाल हो गया था। इसी दौरान मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण उपद्रव करने वालों पर आग बबूला हो गए थे।