vaccine

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने टीकों में खास तौर से इसी केकड़े के खून से ही बैक्टिरिया संक्रमण को दूर रखने की कोशिश की है। हालांकि इस प्रजाति के केकड़ों की संख्या दुनियाभर में काफी कम होती जा रही है।

ब्रिटिश फार्मा कंपनी एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca), ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर सितंबर माह तक 2 बिलियन कोरोना वैक्सीन का उत्पादन करने की योजना बना रही है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि अमेरिका ने कोरोना महामारी की वैक्सीन खोज ली गई है। अमेरिका ने 20 लाख वैक्सीन बना ली है।

कोरोना वायरस वैक्‍सीन से जुड़ी एक अच्‍छी खबर आई है। अमेरिका में एक कंपनी का ट्रायल फेज टू में पहुंच गया है। चीन में एक वैक्‍सीन फेज टू पूरा कर चुकी है और अगले साल की शुरुआत तक मार्केट में उतारी जा सकती है।

ऑक्सफ़ोर्ड विश्वविद्यालय में कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन खोजने की जो टीम बनाई गई है उसमें एक भारतीय मूल की वैज्ञानिक चंद्रबली दत्ता भी शामिल हैं। दत्ता कोलकाता में पैदा हुई थीं।

कोरोना पर रिसर्च कर रहे वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि इस खतरनाक वायरस का मरीज 11 दिनों के बाद किसी दूसरे को संक्रमित नहीं कर सकता है।

वैक्सीन खोजने की कड़ी में थाईलैंड ने वैक्सीन को लेकर थोड़ी बहुत उम्मीद जगाई है। थाईलैंड अब वैक्सीन ट्रायल के अगले चरण में पहुंच गया है।

कोरोना वायरस से बीमार मरीजों को फायदा पहुंचाने वाली पहली और एकमात्र दवा से जुड़ा डेटा पहली बार प्रकाशित किया गया है।

कुछ लोग जो कोरोनावायरस से ठीक भी हुए थे वो अब इलाज के बाद फिर से संक्रमित होने लगे हैं। ऐसे कई देश है जहां से इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं।

वर्तमान में 5 ऐसी दवाएं हैं, जिनका इस्तेमाल कोरोना के इलाज में किया जा रहा है और ये दवाएं मरीजों को ठीक भी कर रही हैं।