yogi sarkar

इंडियन रेलवे ने लोगों को उनकी जगह पर पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। रेलवे के मुताबिक 1 मई से लेकर अब तक 1,414 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई गई हैं।

गौरतलब है कि बहराइच में क्वारनटीन खत्म होते ही इंडोनेशिया और थाइलैंड मूल के 17 विदेशी जमातियों को जेल भेज दिया गया है। बहराइच पुलिस ने शहर की ताज और कुरैश मस्जिद से इंडोनेशिया और थाइलैंड के 17 विदेशियों समेत 21 तबलीगी जमातियों को पकड़ा था, जिन्हें क्वारनटीन में रखा गया था।

बिजनौर से यात्रा का प्रारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे तो बलिया से राज्यपाल आनंदी बेन पटेल इसका शुभारंभ करेंगी।

योगी सरकार के नए आदेश के तहत पूरे प्रदेश में 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाए जाएंगे। मासूमों के साथ दुष्कर्म के मामलों में इंसाफ के लिए पॉक्सो एक्ट से जुड़ी सुनवाई के लिए 74 नए कोर्ट बनेंगे। साथ ही 144 फास्ट ट्रैक कोर्ट ऐसे होंगे जिनमें रेप के मामले की सुनवाई होगी।

इस समिट का दायरा अंतरराष्ट्रीय होगा। इसमें श्रीलंका और नेपाल के विशेषज्ञ शामिल होंगे। बिहार के उपमुख्यमंत्री और संस्कृति मंत्री भी यहां पहुचेंगे। यूपी का संस्कृति विभाग इस अवध-मिथिला समिट का आयोजन करेगा। 14 दिसंबर को को विधानसभा अध्यक्ष  हृदय नारायण दीक्षित समिट का उदघाटन करेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में फैसला लिया गया है कि, 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनेंगे। इनमें से 144 कोर्ट में सिर्फ रेप से जुड़े मामले की सुनवाई होगी और बाकी बचे 74 कोर्ट में पॉक्सो एक्ट वाले केस सुने जाएंगे।

योगी कैबिनेट की इस बैठक में 447.46 करोड रुपये का बजट मंजूर किया गया है। इस रकम का इस्तेमाल मीरापुर इलाके में 61.38 हेक्टेयर जमीन खरीदने में किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती के मौके पर 'रन फॉर यूनिटी' को हरी झंडी दिखाएंगे। 'रन फॉर यूनिटी' का आयोजन राज्य के सभी जिलों में किया जाएगा।

बता दें कि पिछले दो महीने से कम समय में सुप्रीम कोर्ट ने दूसरी बार उत्तर प्रदेश सरकार को फटकार लगाई है। इससे पहले पिछले महीने एक मुस्लिम लड़की की याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि महिलाओं और बाल अधिकारों के प्रति आप गंभीर नहीं है।

उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के दो साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को अपना लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर हुए इस प्रेस कांफ्रेंस में उनके साथ यूपी के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय भी मौजूद रहे।