धर्म-आधारित अमानवीय पोस्ट पर ट्विटर ने लगाया प्रतिबंध

कई लोगों ने इन नियमों को निष्पक्ष तौर पर और लगातार बनाए रखने की ट्विटर की क्षमता के बारे में चिंता जताई है। लोगों ने कंपनी से यह भी कहा है कि इस नीति को परिभाषित करने के दौरान साफ और स्पष्ट भाषा का उपयोग करें और इन नियमों को जारी करने के मामले में अटल रहें।

Written by Newsroom Staff July 11, 2019 10:14 am

नई दिल्ली। ट्विटर ने अपने प्लेटफॉर्म पर अमानवीय भाषा का इस्तेमाल कर घृणित आचरण करने वालों के खिलाफ अपने नियमों का विस्तार किया है, जो धर्म के आधार पर दूसरों को आहत करते हैं। इस माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि नई नीति के खिलाफ जाने वाले ट्वीट्स को हटा दिया जाएगा।

twitter
कंपनी ने कहा, “आज से पहले इस नई नीति को तोड़ने वाले ट्वीट्स को हटाए जाने की आवश्यकता है, लेकिन इससे किसी भी ट्विटर अकांउट को निलंबित नहीं किया जाएगा, क्योंकि इस नियम को बनाए जाने से पहले उन्हें ट्वीट किया गया था।”पिछले साल ट्विटर ने विभिन्न समुदायों से धर्म के आधार पर घृणित आचरण पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रतिक्रिया की मांग की।दो हफ्तों में, 30 से अधिक देशों में रहने वाले लोगों से 8,000 से अधिक प्रतिक्रियाएं मिलीं। ट्विटर ने कहा, “भाषाओं के अलावा, लोगों का ऐसा मानना था कि अधिक जानकारी उपलब्ध कराकर प्रस्तावित बदलाव में सुधार लाया जा सकता है।”

Twitter_icon
कई लोगों ने इन नियमों को निष्पक्ष तौर पर और लगातार बनाए रखने की ट्विटर की क्षमता के बारे में चिंता जताई है। लोगों ने कंपनी से यह भी कहा है कि इस नीति को परिभाषित करने के दौरान साफ और स्पष्ट भाषा का उपयोग करें और इन नियमों को जारी करने के मामले में अटल रहें।