9 सरकारी बैंकों के परमानेंट बंद होने की खबर का क्या है सच?

पिछले कुछ दिनों से एक मैसेज वायरल किया जा रहा है जिसके मुताबिक आरबीआई ने 9 सरकारी बैंकों को बंद करने का फैसला लिया है। मैसेज के मुताबिक इन बैंकों में जिसका खात है वो अपना पैसा जल्द निकाल ले। इन बैंको में कार्पोरेशन बैंक, यूको बैंक, आईडीबीआई बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, आंध्रा बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, देना बैंक और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के नाम शामिल हैं। वायरल मैसेज में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला दिया गया है।

Written by: September 27, 2019 4:26 pm

वो खबर जो वायरल हुई

सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक मैसेज वायरल किया जा रहा है जिसके मुताबिक आरबीआई ने 9 सरकारी बैंकों को बंद करने का फैसला लिया है। मैसेज के मुताबिक इन बैंकों में जिसका खात है वो अपना पैसा जल्द निकाल ले। इन बैंको में कार्पोरेशन बैंक, यूको बैंक, आईडीबीआई बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, आंध्रा बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, देना बैंक और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के नाम शामिल हैं। वायरल मैसेज में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला दिया गया है। और लोगों को मैसेज फॉरवर्ड करने की अपील की गई है।

असर क्या हुआ?

इस मैसेज का असर ये हुआ कि लोग व्हाट्सअप, फेसबुक या दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करने लगे। लिहाजा लोगों में इस खबर को लेकर असमंजस की स्थिति बनी कि आखिर सच क्या है।

फैक्ट क्या है?
दरअसल पिछले कुछ दिनों से बैंक से जुड़े कुछ मुद्दे सामने आए। इनमें सरकार द्वारा बैंकों के मर्जर का फैसला बड़ी खबर बना था तो वहीं पीएमसी बैंक पर आरबीआई द्वारा पैसे निकालने पर लिमिट करने पर लोगों की नाराजगी सामने देखी गई। पीएमएसी बैंक में घोटाला की खबर आने के बाद ग्राहकों को पहले 1000 रुपए निकालने का आदेश जारी हुआ। इस लिमिट पर लोगों में गुस्सा बढ़ा वहीं बाद में इस लिमिट को बढ़ा दिया गया। इन सब खबरों के बीच इसका फायदा उठाते हुए 9 बैंकों के बंद करने का मैसेज वायरल किया गया। चूंकि लोग इस समय बैंक की खबर से रूबरू हो रहे हैं लिहाजा इस वायरल मैसेज को लेकर कन्फ्यूजन पैदा होने लगा।

अब 9 बैंकों के बंद वाले वायरल मैसेज पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने स्थिति स्पष्ट कर दी है। RBI ने साफ कहा है कि ये सिर्फ अफवाह है। देश में कोई भी कॉमर्शियल बैंक बंद नहीं होने जा रहा है। साथ ही लोगों से अपील की है कि इन अफवाहों पर ध्यान न दें। आरबीआई ने लोगों को भरोसा दिलाया है कि ग्राहकों के पैसे उनके खाते में पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

वहीं वित्त मंत्रालय की तरफ से इस बारे में स्थिति स्पष्ट की गई है। वित्त सचिव राजीव कुमार ने भी अपने ट्विटर हैंडल के जरिए एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा है कि इसमें बताई गई सभी बातें झूठी हैं और सिर्फ अफवाह है। उन्होंने लिखा कि सरकार किसी भी बैंक को बंद नहीं करने जा रही है।

सच या अफवाह

यह खबर सच नहीं है।