वायरल चेक

24 अगस्त को @KhaleejMag ने अपने ट्वीटर पेज पर एक वीडियो शेयर किया। इस दावे के साथ कि भारतीय सेना द्वारा श्रीनगर में कश्मीरी प्रदर्शनकारी को जलाया गया।

औरंगजेब को भूल जाइए, यह कहना है काशी विश्वनाथ मंदिर के एक महंत का। गजनी के बाद से किसी ने इतने मंदिर नहीं तोड़े, जितने मोदी ने तोड़ दिए हैं' । पत्रकार आतिश तासीर ने वाराणासी के प्रसिद्ध काशी विश्वनाथ मंदिर के कॉरिडोर की तस्वीरें ट्वीट कर आरोप लगाए हैं।

फेसबुक की नई पॉलिसी के लिए चैनल 13 न्यूज का हवाला दिया जा रहा है। इस मैसेज में यह भी कहने की कोशिश की गई है कि अगर आप इस मैसेज को अपनी वॉल पर डालते हैं तो आपके लिए यह फायदेमंद है।

दो तस्वीरें वायरल हुई हैं जिसमें एक झोपड़ी की और दूसरी पक्के मकान की जिसके बारे में ये बात कही जा रही है कि यह इंदौर की तस्वीर है जहां लोगों ने शहीद जवान के परिवार को 10 लाख/11 लाख का घर बनवाकर दिया है।

'Article 370 के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे अखिलेश यादव को पुलिस घसीटते हुए थाने ले गई'। इस कैप्शन के साथ वायरल वीडियो में आवाज आ रही है कि 'ये कैसा रवैया है देखिए कैसे गिरफ्तारी की गई...ये कौन सा तरीका है गिरफ्तारी का'...इस वीडियो में पुलिसवालों और अखिलेश यादव व उनके समर्थकों के बीच धक्कामुक्की होते हुए देख सकते हैं

तमिलनाडु कैडर के 1975 बैच के इस आईपीएस ऑफिसर का नाम के. विजय कुमार है जो अभी जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के सलाहकार हैं। के. विजय कुमार बीएसएफ के आईजी के तौर पर भी कश्मीर घाटी में अपनी सेवाएं दे चुके हैं।

जैसे-जैसे ईद उल अजहा का त्यौहार नजदीक आ रहा है, वैसे वैसे बाजारों में कुर्बानी के जानवरों की खरीदारी बढ़ती जा रही है। ज्यादातर लोग कुर्बानी के लिए भारी और मोटा जानवर खरीदते हैं।

शिवलिंग का अपमान करके हिंदुओं को ठेस पहुंचाने की कोशिश की गई। एक तस्वीर में जिसमें शिवलिंग पर पैर रखे हुए फोटो खिंचवाई गई।

हाल ही में जोमैटो विवाद हुआ जिसे लेकर सोशल मीडिया पर काफी तकरार देखी गई। इस विवाद में जोमैटो के मालिक के बयान को वायरल किया गया। वायरल किए जा रहे बयान के मुताबिक- जोमैटो के मालिक ने कहा कि कंपनी को हिंदू के ग्राहकों की जरूरत नहीं। सच क्या है?