आखिर क्यों लगाएं दौड़ते हुए घोड़ो की फोटो

आज के प्रतिस्पर्धा के इस दौर में हर कोई सफलता पाना चाहता है, लेकिन मेहनत के बाद भी सफल नहीं हो पाता है। इसका ये अर्थ नहीं होता है कि उस व्यक्ति की मेहनत में किसी तरह की कमी है। जीवन में सफलता हासिल करने के लिए सबसे जरूरी होता है इंसान को ऊर्जावान होना स्वस्थ होना। अगर आप ऊर्जा से भरपूर हैं और आपमें कार्य करने की क्षमता प्रबल है तो सफलता आपके कदम चूमेगी, इसमें कोई दो राय नहीं।वास्तुशास्त्र में बुरी शक्तियों को नकारात्मक उर्जा और अच्छी शक्ति को सकारात्मक उर्जा के रुप में देखा जाता है।उर्जा का प्रवाह जिस तरह से व्यक्ति और उसके घर पर होता है उसका असर व्यक्ति के स्वास्थ्य, सुख और धन पर भी होता है। वास्तुविज्ञान में कुछ ऐसे नियम हैं जिनका पालन किया जाए तो हम नकारात्मक उर्जा के प्रभाव को अपने से दूर करके सकारात्मक उर्जा से लाभ उठा सकते हैं।

कभी-कभी किसी ग्रह नक्षत्र और वास्तु ठीक ना होने के कारण में किसी क्षेत्र में सफलता नहीं मिल पाती है इसलिए वास्तुशास्त्र और ज्योतिष शास्त्र में कुछ उपाय दिए गए हैं जिन्हें अपनाने से जीवन में और करियर के क्षेत्र में मेहनत के साथ सफलता भी मिलने लगती है। इसके लिए आज हम आपके लिए वास्तु का एक उपाय लेकर आए हैं जिसे अपनाने से करियर में सफल होने लगते हैं।

वास्तुशास्त्री पंडीत दयानन्द शास्त्री ने बताया कि यदि आप वस्तु के अनुसार अगर आप अपने घर या दफ्तर में दौड़ते हुए घोड़े की तस्वीर लगाते हैं, तो यह आपके कार्य में गति प्रदान करता है। दौड़ते हुए घोड़े सफलता, प्रगति और ताकत के प्रतीक होते हैं. खासकर 7 दौड़ते हुए घोड़े व्यवसाय की प्रगति का सूचक माने गए हैं, क्योंकि शास्त्रों के अनुसार 7 अंक सार्वभौमिक है, प्राकृतिक है।

वास्तुविद पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार ध्यान देने वाली बात है कि इंद्रधनुष के रंग 7 होते हैं, सप्त ऋषि, शादी में सात फेरे, सात जन्म इत्यादि इसलिए 7 नंबर को प्रकृतिक और सार्वभौमिक माना गया है। इसलिए सात घोड़ों की तस्वीर को सर्वोतम माना गया है।

अगर सात घोड़े के रथ पर सवार सूर्य देव हों तब यह तस्वीर और भी शुभ फलदायी होती होती है। इन तस्वीरों के घर में कहीं भी लगाने से आपको शुभ फल नहीं मिलता है।घोड़े की तस्वीर लगाने के लिए पूर्व दिशा को शुभ माना गया है।

दौड़ते हुए घोड़ों की तस्वीर, पोस्टर या कोई मूर्ति घर की उत्तर दिशा में लगाना शुभ माना जाता है। इसे लगाने से ही प्रोमोशन जल्दी होता है। इसके साथ ही जीवन में धन लाभ के योग बनने लगते हैं।

इसके साथ ही अगर जीवन में नाम, यश और सम्मान पाना चाहते हैं तो घर की दक्षिण दिशा में दौड़ते हुए घोड़ों की तस्वीर लगा सकते हैं। इसके साथ सकारात्मकता आती है और इसके बाद जीवन में भी तरक्की आती है और किसी काम के लिए तारीफ मिल सकती है। यदि घर में किसी कारण से दक्षिण दिशा में घोड़ों की मूर्ति नहीं रख पा रहें हैं तो घर की खिड़की के सामने दौड़ते हुए घोड़े की मूर्ति या तस्वीर रखें। मूर्ति को ऐसे रखें कि घोड़े का मुंह खिड़की से बाहर देख रहा हो। इससे नाम,यश और मान-सम्मान की प्राप्ति होने लगेगी।

आपके घर में यदि पहले से ही दौड़ते घोड़ों की तस्वीर या मूर्ति है तो इसके लिए एक बात हमेशा अपने ध्यान में रखें कि इन घोड़ों पर किसी तरह की रस्सी ना बंधी हो। यदि इस तरह से आपके घर में पोस्टर या तस्वीर है तो इससे घर में आने वाले धन-धान्य पर रोक लगती है। इसके साथ एक बात ध्यान रखें कि कभी किसी एक घोडे़ की फोटो या तस्वीर ना लगाएं, ये आपके घर में धन आने से रोकता है।

वास्तुविद पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार दौड़ते हुए घोड़े की तस्वीर बहुत शुभ मानी जाती है। ये तस्वीर करियर में ग्रोथ लाती है और आपकी एनर्जी को बढ़ाती है।

इन तस्वीरों को लगाते हुए इस बात का ध्यान रखें कि घोड़ों का मुंह ऑफिस के अंदर की ओर आते हुए होना चाहिए और दक्षिण दीवार पर तस्वीर लगानी चाहिए। दौड़ते हुए घोड़े प्रगति के प्रतीक होते हैं।

अगर आप कर्ज से परेशान है तो आप पश्चिमी दिशा में आर्टिफिशियल घोड़े का जोड़ा रखे। वो आप को किसी भी गिफ्ट शॉप पे आसानी से मिलेगा। इससे घर में सुख समृद्धि और लक्ष्मि का हमेशा वास रहता है। ये घोड़े आपके कार्य में गति प्रदान कर सफलता दिलाने में मददगार साबित होंगे।

घोड़े की तस्वीर खरीदते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें कि घोड़े का चेहरा प्रसन्नचित मुद्रा में हो, ना कि आक्रोशित हो।

विशेषकर सफेद घोड़े सकारात्मक ऊर्जा के प्रतीक होते हैं। इसलिए घर और ऑफिस की नकारात्मक ऊर्जा को दूर कर सकारात्मक ऊर्जा को लाने के लिए सफेद 7 घोड़े की तस्वीर लगानी चाहिए।

विशेष ध्यान रखने वाली बात यह है कि कभी भी टूटी फूटी तस्वीर घर में ना रखें।  या धुंधली तस्वीर भी ना रखें। जिस तस्वीर में अलग-अलग दिशा में घोड़े दौड़ते नजर आए वह तस्वीर ना लगाएं।

Facebook Comments