‘जिहादी दुल्हन’ के नवजात बच्चे की मौत, सीरिया से वापस आने की कर रही मांग

दुनिया भर में ‘जिहादी दुल्हन’ के नाम से चर्चित शमीमा बेगम के नवजात बेटे की मौत हो गई है। बांग्लादेशी मूल की ब्रिटिश युवती ने 2015 में सीरिया जाकर इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन में शामिल होने का फैसला लिया था। सीरियन डेमोक्रेट प्रवक्ता ने बताया कि बेगम के नवजात बेटे की मौत खराब स्वास्थ्य के कारण हुई है। बच्चे का जन्म 17 फरवरी को हुआ था।

Written by: March 9, 2019 5:26 pm

नई दिल्ली। दुनिया भर में ‘जिहादी दुल्हन’ के नाम से चर्चित शमीमा बेगम के नवजात बेटे की मौत हो गई है। बांग्लादेशी मूल की ब्रिटिश युवती ने 2015 में सीरिया जाकर इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन में शामिल होने का फैसला लिया था। सीरियन डेमोक्रेट प्रवक्ता ने बताया कि बेगम के नवजात बेटे की मौत खराब स्वास्थ्य के कारण हुई है। बच्चे का जन्म 17 फरवरी को हुआ था।

शमीमा बेगम और उसके बच्चे को गुरुवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन बच्चे की मौत हो गई। शुक्रवार को उसके बच्चे को दफनाया गया।

दो सप्ताह पहले ही जन्मे बच्चे का नाम जर्राह था और जन्म के समय से ही न्यूमोनिया पीड़ित था। बच्चे की गुरुवार को तबीयत बिगड़ने के बाद, कुर्दिश रेड क्रीसेंट के मेडिकल स्टाफ ने मां और नवजात शिशु को अल-हॉल शिविर से अल-हसाकाह शहर के मुख्य अस्पताल में भेज दिया था।

आपको ये भी बता दें कि आईएस में शामिल होने के लिए बेगम लंदन से भागकर सीरिया उस समय पहुंच गई, जब वह महज 15 साल की थी। वह पिछले महीने दुनिया भर में उस समय सुर्खियों में छा गई, जब उसने सार्वजनिक रूप से ब्रिटिश सरकार से उसे वापस आने की अनुमति देने का अनुरोध किया था।