मुलर को कांग्रेस के समक्ष गवाही नहीं देनी चाहिए : ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि विशेष वकील रॉबर्ट मुलर को कांग्रेस के समक्ष गवाही नहीं देनी चाहिए। ट्रंप ने इसके दो दिन पहले कहा था कि अटॉर्नी जनरल विलियम बर्र को इस बारे में फैसला करना चाहिए।

Written by: May 6, 2019 3:56 pm

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि विशेष वकील रॉबर्ट मुलर को कांग्रेस के समक्ष गवाही नहीं देनी चाहिए। ट्रंप ने इसके दो दिन पहले कहा था कि अटॉर्नी जनरल विलियम बर्र को इस बारे में फैसला करना चाहिए।

सीएनएन के मुताबिक, राष्ट्रपति ने रविवार को ट्वीट किया कि मुलर को सदन की न्यायिक समिति के सामने पेश नहीं होना चाहिए और उन्होंने सवाल किया कि 2016 के राष्ट्रपति चुनाव अभियान और ट्रांजिशन में रूसी अधिकारियों और उनके (ट्रंप) सहयोगियों के बीच मिलीभगत के आरोपों में उनकी दो साल की जांच के समापन के बाद डेमोक्रेटिक-नियंत्रित समिति को विशेष वकील की गवाही की आवश्यकता क्यों है।

robert muller
उन्होंने कहा, “क्या वे इसलिए इस मामले को नए सिरे से शुरू करना चाहते है, क्योंकि इसके निष्कर्ष में कोई सांठगांठ नहीं मिलने से उन्हें अच्छा नहीं लग रहा? इसमें कोई अपराध नहीं हुआ था, सिवाय दूसरे पक्ष के (रिपोर्ट में अविश्वसनीय रूप से शामिल नहीं), और कोई व्यवधान नहीं था।” उन्होंने आगे लिखा, “डेमोक्रेट के लिए यह मामला फिर से नहीं शुरू होगा।”

राष्ट्रपति से शुक्रवार को व्हाइट हाउस में जब पत्रकारों ने मुलर की संभावित गवाही के बारे में पूछा था तो उन्होंने कहा था कि विलियम बर्र को यह फैसला लेना चाहिए कि मुलर कांग्रेस में गवाही देंगे या नहीं। उन्होंने कहा था, “मुझे नहीं पता। यह हमारे अटॉर्नी जनरल के ऊपर निर्भर है, जिनके बारे में मेरा मानना है कि वह बहुत बढ़िया काम कर रहे हैं।”

सदन के न्यायिक समिति के सदस्य डेविड सिसिलिन ने फॉक्स न्यूज को बताया था कि समिति ने मुलर की गवाही के लिए ‘अस्थायी रूप से’ 15 मई की तारीख तय की है, जिसके कुछ घंटों बाद ट्रंप ने रविवार को ट्वीट किया। हालांकि, बाद में डेविड ने स्पष्ट किया कि सदन के समक्ष मुलर के गवाही देने की तारीख अभी तक तय नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद 15 मई को मुलर की गवाही करानी है, लेकिन अभी तक कुछ भी सहमति नहीं बनी है।