पाक में घिनौनी घटना, लड़की को किया अगवा, जबरन बदलवाया धर्म और फिर कर ली शादी

एक अदालत में सुनवाई के बाद हुमा की मां नगीना यूनुस ने पाकिस्तान में हो रहे अत्याचारों को लेकर कहा कि क्या पाकिस्तान में अपहरण और धर्म परिवर्तन ही उनका भविष्य है।

Avatar Written by: December 11, 2019 2:37 pm

नई दिल्ली। देश में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर बहस छिड़ी हुई है और कुछ नेता इसे मुस्लिमों के खिलाफ बताने पर तुले हुए हैं। जबकि इस बिल को लेकर गृह मंत्री अमित शाह लोकसभा में साफ कर चुके हैं कि इस बिल से देश के नागरिक मुसलमानों का कोई वास्ता नहीं है। इस बिल की जरूरत को लेकर सरकार की तरफ से तर्क दिया जा रहा है कि पड़ोसी देशों में रह रहे अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार और उन्हें भारत में शरण देने के लिए इस बिल को लाया गया है।

Home Minister Amit Shah

वैसे इस बिल की जरूरत तब और समझ में आती है जब पाकिस्तान जैसे मुस्लिम देश में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार की खबरें सामने आती हैं। पाक से ताजा मामला एक ईसाई लड़की को अगवाकर उसका धर्म परिवर्तन करके शादी करने का आया है।

बता दें कि ताजा मामला पाकिस्तान के कराची का है, जहां 14 साल ही ईसाई किशोरी हुमा यूनुस का पहले अपहरण किया गया फिर जबरन धर्म परिवर्तन कराकर उसे अगवा करने के आरोपी अब्दुल जब्बार से ही उसकी शादी करा दी गई।

Pak Huma Younus

मिली जानकारी के अनुसार, आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली हुमा को डेरा गाजी खान ले जाया गया, उसका धर्म परिवर्तन कराने के और शादी के कागज उसके माता-पिता के पास भेजे गए हैं। यह मामला फिलहाल अदालत में है। पाकिस्तान की पत्रकार नायला इनायत ने इस संबंध में ट्वीट भी किया है।

Pak Huma Younus mother

एक अदालत में सुनवाई के बाद हुमा की मां नगीना यूनुस ने पाकिस्तान में हो रहे अत्याचारों को लेकर कहा कि क्या पाकिस्तान में अपहरण और धर्म परिवर्तन ही उनका भविष्य है।

Pakistan Flag

नगीना यूनुस ने कहा कि, अगर ऐसा ही है तो क्या ईसाई माताओं को अपनी बेटियों को मार देना चाहिए? अपनी बात रखते हुए उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, बिलावल भुट्टो और सेना प्रमुख से मदद की गुहार भी लगाई है।