रूस में कश्मीर और भारत के खिलाफ जहर फैलाने में जुटा पाकिस्तान

आतंकवाद पर बेनकाब हो चुका पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। खुफिया एजेंसियों ने सुरक्षा महकमे में एक रिपोर्ट दी है, जिसके मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई रूस में मौजूद कुछ स्थानीय निवासियों की मदद से कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत विरोधी गतिविधियों को फैलाने में जुटी है।

Written by: May 11, 2019 11:52 am

नई दिल्ली। आतंकवाद पर बेनकाब हो चुका पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। खुफिया एजेंसियों ने सुरक्षा महकमे में एक रिपोर्ट दी है, जिसके मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई रूस में मौजूद कुछ स्थानीय निवासियों की मदद से कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत विरोधी गतिविधियों को फैलाने में जुटी है।

पाकिस्तान वर्तमान में पूरे विश्व में आतंक के मुद्दे पर अलग थलग पड़ा हुआ है। हाल ही में चीन ने भी पाकिस्तान का साथ मसूद अजहर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करते समय नहीं दिया था। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने बालाकोट में जैश के आतंकी ठिकानों पर बड़ी एयर स्ट्राइक की थी, जिसके बाद पाकिस्तान बौखला कर कश्मीर को लेकर एंटी इंडिया प्रोपेगैंडा करने में लगा हुआ है।


तुर्की देता है स्कॉलरशिप
दरअसल, तुर्की हर साल पूरे विश्व से युवाओं को तुर्की में पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप देता है, जिसमें कश्मीरी युवा भी स्कॉलरशिप पाते हैं। बता दें कि 2018 में पूरे विश्व से तुर्की में स्कॉलरशिप के लिए एक लाख 35 हजार स्टूडेंट्स ने अप्लाई किया था, जिसमें 17,500 युवकों को सफलता हासिल हुई थी। 1992 से शुरू हुई तुर्की की इस स्कॉलरशिप के जरिए पूरे विश्व से एवरेज हर साल 7000 से ज्यादा स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप पाते हैं।


सुरक्षा जानकारों के मुताबिक, पाकिस्तान तुर्की में गए कश्मीरी स्टूडेंट्स को इसलिए निशाना बना रहा है क्योंकि घाटी में आतंकी लगातार ऑपरेशन ऑल आउट में मारे जा रहे हैं। कश्मीर में उसकी दाल गल नहीं रही है। ऐसे में वह अपने मित्र देश तुर्की में कश्मीर से स्कॉलरशिप पर गए युवाओं को जिहाद के लिए उकसाना चाहता है।