भारत-श्रीलंका की दोस्ती से हड़बड़ाया पाकिस्तान, विदेश मंत्री को तुरंत भेजा कोलंबो

भारत की विदेश नीति के आगे पाकिस्तान के होश फाख्ता है। पाकिस्तान इस कदर घबराया हुआ है कि भारत के पीछे पीछे चलने में ही अपनी भलाई समझ रहा है। भारत के विदेश मंत्री ने सबसे पहले श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति से मुलाकात की तो पाकिस्तान से भी रहा नहीं गया।

Written by: December 2, 2019 4:07 pm

नई दिल्ली। भारत की विदेश नीति के आगे पाकिस्तान के होश फाख्ता है। पाकिस्तान इस कदर घबराया हुआ है कि भारत के पीछे पीछे चलने में ही अपनी भलाई समझ रहा है। भारत के विदेश मंत्री ने सबसे पहले श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति से मुलाकात की तो पाकिस्तान से भी रहा नहीं गया।

Gotabaya Rajapaksa Narendra Modi and Imran khan

पाकिस्तान ने अपने विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी को तुरंत कोलंबो की तरफ रवाना कर दिया। दरअसल श्रीलंका के नए राष्ट्रपति से संपर्क साधने में भारत ने बहुत तत्परता दिखाई थी। विदेश मंत्री एस जयशंकर गोटबाया से मुलाकात करने वाले पहले विदेशी उच्चाधिकारी रहे। जयशंकर प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए शुभकामना पत्र के साथ ही नवनिर्वाचित राष्ट्रपति को भारत दौरे का निमंत्रण भी दे आए।

v

अहम बात यह भी रही कि श्रीलंका के नए राष्ट्रपति ने भारत के इस आमंत्रण को तुरंत स्वीकार भी कर लिया। वह इसी हफ्ते बतौर राष्ट्रपति अपने पहले विदेशी दौरे के रूप में भारत आएंगे। श्रीलंका के नए राष्ट्रपति का रुख पाकिस्तान और चीन दोनों को परेशान कर रहा है। इससे पहले चुनाव जीतने के बाद उन्होंने एलान किया था कि वह नहीं चाहते कि उनका देश किसी तरह की क्षेत्रीय शक्ति खींचतान में शामिल हो।

Gotabaya Rajapaksa and Narendra Modi

इन्हीं वजहों से पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी अपनी दो द‍िवसीय आधिकारिक यात्रा के लिए श्रीलंका में हैं। इस दौरान वह श्रीलंका के नए राष्‍ट्रपति गोटबाया राजपक्षे और प्रधानमंत्री महिंद्रा राजपक्षे से मुलाकात करेंगे। इस यात्रा में दोनों मुल्‍क क्षेत्रीय व अंतरराष्‍ट्रीय मुद्दों से संबंधित द्विपक्षीय संबंधों पर वार्ता करेंगे। गत माह श्रीलंका के नए राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री ने अपने पद की शपथ ली थी। ऐसे में भारत के साथ उनकी ट्यूनिंग बेहद अहम मानी जा रही है।