पीएम मोदी के रूस दौरे के बाद आई खुशखबरी, 2021 तक भारत को मिलेगी एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली की पहली खेप

भारत को रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली की पहली खेप साल 2021 के मध्य तक प्राप्त हो जाएगी। रूस के उप प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव ने रविवार को कहा कि एस-400 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली को पहले से तय समय के अनुसार भारत को सौंप दिया जाएगा।

Written by: September 9, 2019 10:51 am

नई दिल्ली। भारत को रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली की पहली खेप साल 2021 के मध्य तक प्राप्त हो जाएगी। रूस के उप प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव ने रविवार को कहा कि एस-400 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली को पहले से तय समय के अनुसार भारत को सौंप दिया जाएगा। इस सिस्टम के बाद पाकिस्‍तान की गजनवी, शाहीन और हत्‍फ जैसी कोई भी मिसाइल भारत के आसमान को छू भी नहीं पाएगी।

s400 missile1

रूस के उप प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव ने एक इंटरव्यू में बताया कि एडवांस भुगतान मिल गया है और कड़े तौर पर सहमति का पालन करते हुए सब कुछ तय समय के मुताबिक 18 से 19 महीने के अंदर सौंप दिया जाएगा।

Yury Borisov

ये वो मिसाइल सिस्टम है जो हवा में ही दुश्मन की मिसाइल को मार गिराता है। ये मिसाइल सिस्टम जहां एक्टिवेट हो जाता है वहां मीलों दूर तक दुश्मन की परछाई भी नहीं पड़ सकती। रूस में बना ये एयर डिफेंस सिस्टम जल्द ही भारतीय सेना का हिस्सा बनने वाला है।

President Putin and Narendra Modi 2

भारत की सामरिक ताकत लगातार बढ़ती जा रही है। अपाचे हेलिकॉप्टर की पहली खेप आ चुकी है। 8 चॉपर भारत पहुंच चुके हैं कुल 22 आने हैं। वहीं इसी महीने राफेल की डिलीवरी होनी है। जहां हमारी अटैक पावर में धार आ गई है वहीं एस-400 हमारी डिफेंस को इतना मज़बूत कर देगा कि परिंदा भी पर नहीं मार पाएगा।