ट्यूनीशिया की राजधानी में 2 बम विस्फोट, पुलिस अफसर की मौत, 8 घायल

हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने नहीं ली है। राज्य के टीवी ने उत्तर अफ्रीकी देश में पर्यटन के लिए मशहूर तटीय शहर सॉसे में तीसरे हमले की सूचना दी थी, लेकिन बाद में इस खबर को गलत बताया गया।

Avatar Written by: June 28, 2019 12:03 pm

ट्यूनिस। ट्यूनीशिया की राजधानी ट्यूनिस में गुरुवार को दो आत्मघाती बम विस्फोट हुए जिसमें एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई और आठ लोग घायल हो गए। पुलिस के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पहला धमाका दोपहर से पहले उस वक्त हुआ जब एक आत्मघाती हमलावर ट्यूनिस शहर के रूए चार्ल्स डी गॉल और एवेन्यू डे फ्रांस पर एक पुलिस गश्ती वाहन से जा टकराया।


इस स्थान पर पैदल चलने वालों की संख्या काफी अधिक रहती है और भारी सुरक्षा वाला फ्रांसीसी दूतावास यहां से ज्यादा दूर नहीं है। शहर के पर्यटक स्थल मदीना के प्रवेश द्वार से कुछ ही मीटर की दूरी पर रहे एक प्रत्यक्षदर्शी ने एफे न्यूज से कहा, “एक बहुत बड़ा विस्फोट हुआ, जिसने पूरी सड़क को हिला दिया। लोग सभी दिशाओं में भागते दिखाई दिए।”

विस्फोट के कुछ मिनट बाद गृह मंत्रालय ने इसकी पुष्टि की। मंत्रालय ने कहा, “गंभीर रूप से घायल दो अधिकारियों में से एक की मौत हो गई है। अलग-अलग चोटों के चलते तीन नागरिकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।” सुरक्षा सेवाओं ने हमले के स्थान की घेराबंदी की और एंबुलेंस के लिए एक रास्ता साफ किया, जिससे घायलों को अस्पताल ले जाया जा सका।


कथित आत्मघाती हमलावर के शरीर के अंग सड़क पर बिखरे हुए थे। अधिकारियों ने कहा कि पहले विस्फोट के दस मिनट बाद, शहर के अल गोरजानी इलाके में एक दूसरे बम हमलावर ने पुलिस के आतंकवाद विरोधी विभाग पर हमला किया। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता सोफिन जाक ने कहा कि अल गोरजानी में हुए हमले में कम से कम चार सुरक्षाकर्मी घायल हो गए, जिनमें से दो की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है।


हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने नहीं ली है। राज्य के टीवी ने उत्तर अफ्रीकी देश में पर्यटन के लिए मशहूर तटीय शहर सॉसे में तीसरे हमले की सूचना दी थी, लेकिन बाद में इस खबर को गलत बताया गया। आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (आईएस) के इराक और सीरिया में सक्रिय आतंकियों में ट्यूनीशिया के आतंकी बड़ी संख्या में रहे हैं। इस संगठन में जिन देशों के सर्वाधिक आतंकी रहे हैं, ट्यूनीशिया का स्थान इनमें चौथा रहा है।