Pilgrimage to Amarnaath: बादल फटने की घटना के बाद बाबा अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने किए बड़े बदलाव, लिया ये अहम फैसला

Pilgrimage to Amarnaath: टेंट लगाने वालों को भी गुफा से दूर हटकर टेंट लगाने का निर्देश दिया गया है। याद हो, उत्तराखंड में बादल फटने की वजह से इलाके में अचानक आयी बाढ़ में कम से कम 15 लोगों कई लोगों की जान चली गई थी, जबकि 30 से अधिक लोग अभी भी शामिल हैं।

Avatar Written by: July 13, 2022 5:23 pm

नई दिल्ली। बीते दिनों बाबा अमरनाथ में हुए हादसे में कई लोगों की जान गई है, जिसके बाद बाबा अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने बड़ा फैसला लिया है। इस फैसल के तहत अब अमरनाथ गुफा के पास यात्रियों के रहने की व्यवस्था को समाप्त कर दिया जाएगा। इसके अलावा, दर्शन के समय में भी कटौती की जाएगी। इसका मतलब ये है कि अब श्रद्धालुओं को शाम 6 बजे की जगह केवल 4 बजे तक ही दर्शन प्राप्त हो सकेंगे। साथ ही टेंट लगाने वालों को भी गुफा से दूर हटकर टेंट लगाने का निर्देश दिया गया है। याद हो, उत्तराखंड में बादल फटने की वजह से इलाके में अचानक आयी बाढ़ में कम से कम 15 लोगों की जान चली गई थी, जबकि 30 से अधिक लोग अभी भी लापता हैं।

हादसे के बाद गांदरबल जिले में बालटाल मार्ग पर अमरनाथ की यात्रा को चार दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया था। लेकिन मंगलवार को कुछ निर्देशों के साथ इस यात्रा को फिर से शुरू कर दिया गया। अधिकारियों के अनुसार, तीर्थयात्रियों का एक नया जत्था सुबह बालटाल आधार शिविर से गुफा मंदिर के लिए रवाना किया गया।

वहीं, पहलगाम मार्ग पर अमरनाथ यात्रा सोमवार को शुरू कर दी गई थी। गौरतलब है, कि हर साल सावन के महीने में भारी मात्रा में श्रद्धालु अमरनाथ यात्रा के लिए जाते हैं और बाबा बर्फानी के दर्शन करते हैं।

Latest