देश

Uttar Pradesh: योगी सरकार का वैक्सीन की उपलब्धता बनाए रखने पर पूरा जोर है। कोविड वैक्सीन के संबंध में उसने ग्लोबल टेंडर जारी किया है। सरकार बीमारी से रोकथाम के लिये 40 मिलियन दवाओं की डोज की उपलब्धता बनाकर रखना चाहती है।

Uttar Pradesh: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि इन गतिविधियों की निगरानी के लिए पीएसी की जल पुलिस और एसडीआरएफ की टीम लगातार गश्त करे। इसके अलावा, नदियों के किनारे स्थित सभी गांवों तथा कस्बों में संबंधित ग्राम विकास अधिकारी व ग्राम प्रधान तथा शहरों में कार्यकारी अधिकारी और नगर पालिका, नगर पंचायत और नगर निगमों के अध्यक्षों के माध्यम से समितियां बनाकर यह सुनिश्चित करें कि उनके क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति परंपरा के नाते नदियों में शव प्रवाहित न करे। यदि जरूरी हो तो स्थानीय स्तर पर नदियों में शव बहाने वालों के खिलाफ जुर्माना भी लगाया जाए।

Palestine Vs Israeli: ऐसा ही हुआ है कानपुर के सपा नेता मुनाफुद्दीन, आबिद और जफरखांन के साथ। मुनाउद्दीन सपा के विधानसभा छावनी अध्यक्ष हैं बाकी दोनों वार्ड अध्यक्ष और उपाध्यक्ष हैं। इन दोनों को ही इजरायल-फिलिस्तीन मामले के बीच में कूदना भारी पड़ गया है। दरअसल इन तीनों नेताओं ने अपनी राजनीति चमकाने के लिए शुक्रवार के दिन सुबह-सुबह फिलिस्तीन के समर्थन में एक बड़ी सी होर्डिंग लगा दी।

Palestine Vs Israeli: संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टी. एस. तिरुमूर्ति ने बुधवार को ट्वीट किया कि पूर्वी यरुशलम में इस तनाव के मुद्दे पर हुई संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की बैठक में उन्होंने कहा कि भारत सभी तरह की हिंसक गतिविधियों, खासकर गाजा से किए गए रॉकेट हमलों की निंदा करता है।

UP: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने चित्रकूट (Chitrakoot) जेल में हुए शूटआउट के मामले में डीजी जेल से रिपोर्ट मांगी है। योगी ने कहा कि अगले 6 घंटे में कमिश्नर डीके सिंह, डीआईजी के सत्यनारायण और एडीजी जेल संजीव त्रिपाठी मामले की जांच कर पूरी रिपोर्ट दें।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, दिल्ली ने मिशन 'आरोग्य- सर्वे संतु निरामया:' नामक एक अभियान प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। 16 मई से प्रारंभ होने वाले इस अभियान में विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता दिल्ली की बस्तियों में घर-घर जाकर 'टेंपरेचर गन' और ‘ऑक्सीमीटर’ द्वारा बस्ती के प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग करने का कार्य करेंगे।

Coronavirus: बीएचयू के न्यूरोलॉजी विभाग के प्रोफेसर डॉ. विजय नाथ मिश्र, डॉ. अभिषेक पाठक आदि चिकित्सकों ने गांव-गांव संदिग्ध कोरोना रोगियों की पहचान करने की मुहिम शुरू की है। ऑक्सीमीटर, थमार्मीटर जैसे उपकरणों और दवाओं के साथ बीएचयू के डॉक्टरों की टीम बनारस के गांवों में पहुंच रहीं हैं। अब तक यह टीम बनारस के डाफी, रमना गांव में घर-घर जाकर लोगों के ऑक्सीजन लेवल की जांच कर संदिग्ध रोगियों को दवाएं दे चुकीं हैं।

West Bengal: राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि राज्य में लोग थाने जाने से डर रहे हैं। सत्ताधारी पार्टी के कार्यकर्ताओं से पुलिस डरी हुई है। मैंने उन्हें वापस आने के लिए प्रोत्साहित किया है, मैं अपने सीने पर गोली लूंगा। मैं सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ मुख्यमंत्री से बात करूंगा। उन्हें जनादेश मिला है। सीएम को टकराव छोड़ना चाहिए।