लाइफस्टाइल

आजकल अधिकतर लोग अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं। लेकिन हल्दी के सेवन से आप अपने वजन को कंट्रोल में रख सकते हैं। हल्दी शरीर में फैट टीश्यूज को बनने से रोकती है, जिससे वजन कंट्रोल में रहता है।

ब्रेकअप के बाद जितना हो सके एक्स के साथ विनम्रता से पेश आएं और उन्हें यह विश्वास दिलाएं कि इस घड़ी में भी आप एक अच्छे दोस्त की तरह उनके साथ खड़े हैं। उन्हें विश्वास दिलाएं कि आप पिछली बातों को भुलाकर दोस्ती की नई शुरुआत करना चाहते हैं।

वजन कम करने में अखरोट मदद करता है। एक औंस यानी करीब 28 ग्राम अखरोट में 2.5 ग्राम ओमेगा थ्री फैटी एसिड, 4 ग्राम प्रोटीन और 2 ग्राम फाइबर होता है जिससे लंबे समय तक तृप्ति की भावना बनी रहती है। वजन कम करने के लिए जरूरी है कि आपका पेट भरा रहे।

इसमें टक्कर की गंभीरता नियंत्रण करने के बाद, उम्र, कद, बॉडी मास इंडेक्स और वाहन मॉडल वर्ष आदि कारक शामिल हैं।

जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं वह है विभिन्न मनोसामाजिक परिवर्तन, रजोनिवृत्ति के बाद जिनका होना आम है। इसमें शरीर की बनावट को लेकर अधिक सचेत होना, आत्म-विश्वास और कथित वांछनीयता, तनाव, मूड में परिवर्तन और रिश्ते से संबंधित मुद्दे शामिल हैं।

कलौंजी डायबिटीज से बचाता है, पिंपलस, सिरदर्द, अस्थमा, आंखों की रोशनी, कैंसर से बचाव, ब्लड प्रेशर कंट्रोल, मेमोरी पावर बढ़ाने में, आंखों की रोशनी, कैंसर आदि तक में उपयोगी और लाभकारी है. कलौंजी एक बेहद उपयोगी मसाला है.

जो महिलाएं औसत शराब पीती थी या शराब पीना छोड़ देती थी, उनमें मानसिक तौर पर सकारात्मक बदलाव देखने को मिले। फिलहाल यह अध्ययन चीन व अमेरिका के नागरिकों पर हुआ है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह शोध भारतीय नागरिकों पर भी किया जा सकता है।

 कई लोगों को बिस्तर पर जाने के बाद भी नींद नहीं आती है और वो देर तक करवट ही बदलते रह जाते हैं। ऐसे में बेहतर है कि जब आपके साथ ऐसा हो तब आप कोई किताब पढ़ें। इसके थोड़ी देर बाद ही आप नींद के आगोश में चले जाएंगे।

देसी घी से रोजाना फेस की मसाज करने से त्‍वचा की खोई नमी वापस आ जाती है। जिसकी वजह से त्‍वचा का रूखापन खत्म होकर त्वचा की कांति बढ़ जाती है। इसके अलावा बालों को काला, घना और चमकदार बनाने के लिए सिर पर देसी घी से मालिश करनी चाहिए।