ऑटो

Hyundai Motor: नए मॉडल के बाजार में आने की उम्मीद 6-8 हफ्तों के भीतर लगाई जा रही है। इस पर गर्ग ने कहा कि फैक्ट्री में तीसरे शिफ्ट पर काम सोमवार से शुरू होने वाला है।

दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी हुंडई मोटर ने सोमवार को कहा कि वह सेमी कंडक्टर्स की कमी और नियमित रखरखाव के कारण अपने अमेरिकी संयंत्र को तीन सप्ताह के लिए बंद कर देगी।

भारत को 2026 तक अपनी सड़कों पर संभावित रूप से चलने वाले 20 लाख इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) की आवश्यकता को पूरा करने के लिए लगभग 400,000 चार्जिग स्टेशनों की जरूरत होगी। शनिवार को एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

Covid-19: कोविड से प्रेरित आर्थिक अस्थिरता ने पिछले महीने घरेलू यात्री वाहनों की मांग को मई 2019 के स्तर से कम (Sales of Vehicles Decreased) कर दिया है। हालांकि, कम ब्याज दरों के साथ आधार प्रभाव और कुछ रुकी हुई मांग ने साल-दर-साल आधार पर मई 2021 में घरेलू मांग में तेजी दिखाई।

भारत के कुल वाहन पंजीकरण (Vehicle registration) में मई 2021 में क्रमिक आधार पर 54.79 प्रतिशत की गिरावट आई है। फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों में मई 2019 के स्तर से इस महीने के दौरान 70.60 प्रतिशत की गिरावट देखी गई।

Auto News: हुंडई मोटर इंडिया ने एक बयान में कहा, "ग्राहक चार पावरट्रेन में से चुन सकते हैं जिसमें 2.0 लीटर पेट्रोल एमपीआई इंजन और 1.5 लीटर डीजल सीआरडीआई इंजन शामिल हैं, जिसमें 6-स्पीड मैनुअल और 6-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के विकल्प हैं।"

ऑटोमोटिव कम्पनी फिएट ने कहा है कि उसका प्लान खुद को 2030 तक पूरी तरह इलेक्ट्रिक गाड़ियों के निर्माण तक सीमित कर लेने का है।

फ्रेंको-जापानी संयुक्त उद्यम संयंत्र रेनॉल्ट निसान ऑटोमोटिव इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Renault Nissan) के श्रमिक संघ ने सोमवार को ड्यूटी पर नहीं आने का फैसला किया है, जब तक कि कोविड -19 सुरक्षा उपाय नहीं किए जाते। दूसरी ओर, हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड, फोर्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और आयशर मोटर्स लिमिटेड के कर्मचारियों ने काम के लिए सूचना दी है और कंपनी के संयंत्र चालू हैं।

फ्रेंको-जापानी संयुक्त उद्यम संयंत्र रेनॉल्ट निसान ऑटोमोटिव इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Renault Nissan) के श्रमिक संघ ने सोमवार को ड्यूटी पर नहीं आने का फैसला किया है, जब तक कि कोविड सुरक्षा उपाय नहीं किए जाते।