Connect with us

ज्योतिष

Basant Panchami 2023: बसंत पंचमी पर बुद्धि और विद्या प्राप्ति के लिए करें ये उपाय, मिलेगा फायदा

Basant Panchami 2023: इस साल 2023 में बसंत पंचमी का त्योहार 26 जनवरी 2023, गुरुवार को मनाया जाएगा। कहते हैं इस दिन आपको मां सरस्वती की पूजा के साथ ही कुछ खास उपाय भी करने चाहिए जिससे आपको बुद्धि और विद्या की प्राप्ति हो। तो चलिए आपको बताते हैं क्या उपाय इस दिन आपको करने हैं…

Published

Basant Panchami 2023

नई दिल्ली। बसंत पंचमी का त्योहार माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। ये त्योहार मां सरस्वती को समर्पित है। मां सरस्वती ज्ञान, संगीत, कला, विज्ञान और शिल्प-कला की देवी हैं। ऐसे में लोग इन दिन (बसंत पंचमी) ज्ञान, बल, बुद्धि की प्राप्ति और सुस्ती, आलस्य, अज्ञानता से छुटकारा पाने के लिए मां सरस्वती की विधि-विधान के साथ पूजा पाठ करते हैं। मां सरस्वती की कृपा पाने के लिए बसंत पंचमी का त्योहार सबसे शुभ दिन होता है। कई जगहों पर इसे बसंत पंचमी तो कई जगहों पर इसे सरस्वती पूजा के नाम से जाना जाता है।

Basant Panchami 2023.

कब है बसंत पंचमी 2023

इस साल 2023 में बसंत पंचमी का त्योहार 26 जनवरी 2023, गुरुवार को मनाया जाएगा। कहते हैं इस दिन आपको मां सरस्वती की पूजा के साथ ही कुछ खास उपाय भी करने चाहिए जिससे आपको बुद्धि और विद्या की प्राप्ति हो। तो चलिए आपको बताते हैं क्या उपाय इस दिन आपको करने हैं…

Basant Panchami 2023...

बसंत पंचमी के दिन जरूर करें ये उपाय

  • जिन छात्र-छात्राओं का मन पढ़ाई में नहीं लगता ऐसे लोगों को बसंत पंचमी वाले दिन से ही पूर्व या फिर उत्तर पूर्वोत्तर दिशा में पढ़ाई करना शुरू कर देना चाहिए। जो भी छात्र सरस्वती पूजा वाले दिन से इस दिशा की तरफ मुंह करके पढ़ाई करता है तो उसका ध्यान एक स्थान पर केंद्रित होने लगता है।
  • पढ़ाई में मन न लगने के अलावा कई और दिक्कतों का भी अगर आपको सामना करना पड़ रहा है तो आपको इस दिन (बसंत पंचमी) ‘ॐ ऐं सरस्वत्यै ऐं नमः’ मंत्र का जाप करना चाहिए।
  • जो लोग चाहते हैं कि उनकी जिंदगी में प्यार बना रहे तो ऐसे लोगों को बसंत पंचमी वाले दिन भगवती रति और कामदेव की पूजा करनी चाहिए। इससे उन्हें फायदा होता है।

Basant Panchami 2023..

  • बसंत पंचमी वाले दिन छात्र मां सरस्वती को पीले चंदन का टीका लगाए और साथ ही उन्हें पीले रंग के वस्त्र भी चढ़ाएं। इसके अलावा मां सरस्वती के सामने किताब और कलम भी रखें।
  • शुभ फलों की प्राप्ति के लिए बसंत पंचमी के दिन आपको 2 से 10 साल तक की कन्याओं की पूजा करनी चाहिए साथ ही उन्हें पीले और मीठे चावल भी खिलाएं।
  • आप इस दिन कुंवारी कन्याओं को पीले रंग के वस्त्र और आभूषण भी दान कर सकते हैं। इस छोटे से उपाय से आपके जीवन में कई बदलाव आने लगते हैं।
Advertisement
Advertisement
Advertisement