Connect with us

ज्योतिष

Dhanu Sankranti 2022: धनु संक्रांति के दिन इन उपायों को करने से होंगे सारे कष्ट दूर

Dhanu Sankranti 2022: आपको बता दें कि सूर्य देव की किसी एक राशि से दूसरी राशि में जाने को धनु संक्रांति के रुप में मनाया जाता है। इस व्रत का महत्व दक्षिण भारत की तरफ अधिक है। ऐसे में संक्रांति के दिन भगवान जगन्नाथ की विशेष कर पूजा की जाती है। आइए इस त्योहार में किए गए उपायों के बारे में जानते हैं इन उपायों को करने से आपके जीवन के सारे कष्ट दूर होंगे

Published

नई दिल्ली। सनातन धर्म में संक्रांति तिथि का अधिक महत्व है। इस दिन लाखों की संख्या में श्रद्धालु धर्म स्नान के लिए नदियों में जाते है और पवित्र नदी में स्नान करने के बाद पूजा- पाठ करते है। हिंदू पंचांग के अनुसार इस वर्ष 16 दिसंबर को धनु संक्रांति है। इस दिन को पौष मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाएगा। देश के कई क्षेत्रों में संक्रांति का उत्सव मनाया जाता है। आपको बता दें कि सूर्य देव की किसी एक राशि से दूसरी राशि में जाने को धनु संक्रांति के रुप में मनाया जाता है। इस व्रत का महत्व दक्षिण भारत की तरफ अधिक है। ऐसे में संक्रांति के दिन भगवान जगन्नाथ की विशेष कर पूजा की जाती है। आइए इस त्योहार में किए गए उपायों के बारे में जानते हैं इन उपायों को करने से आपके जीवन के सारे कष्ट दूर होंगे-

उपाय-

  • इस दिन भगवान शिव की पूजा करके उनको गंगाजल चढ़ाने से सारी मनोकामना पूरी होती है।
  • इसके साथ ही इस दिन महामृत्युंजय मंत्र का पाठ करने से आकस्मिक संकटों से मुक्ति मिलती है।
  • इस दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से किस्मत खुल जाती है।
  • इस दिन जरूरतमंद को भोजन कराएं।

गायत्री मंत्र के लघु अनुष्ठान को करें-

  • इस दिन बिना नमक के भोजन करने से पितरों की कृपा होती है।
  • अपने पितृ गण की शांति के लिए इस दिन तर्पण करें।
  • इस दिन गायत्री मंत्र का उच्चारण करना चाहिए।
  • इस दिन गायत्री मंत्र का अनुष्ठान भी शुरु किया जाता है।
  • गायत्री मंत्र के लघु अनुष्ठान 24 हजार मंत्र जाप करते है।
Advertisement
Advertisement
Advertisement