Friday Puja: विवाह में आ रही बाधा को दूर करेंगी मां संतोषी, शुक्रवार के दिन इस तरह करें पूजा

Friday Puja: इस व्रत में सिर्फ एक बार ही भोजन किया जाता है। ध्यान रहे कि इस व्रत में खट्टा नही खाना है। जो व्यक्ति संतोषी मां की पूजा करेगा उसे सुख, संपत्ति और शांति प्राप्त होती है। 

Written by: November 26, 2021 1:43 pm
sanotshi ma

नई दिल्ली। आज शुक्रवार है, इस दिन माता संतोषी (Maa Santoshi) की भी पूजा की जाती है। इनकी पूजा करने से व्यक्ति के घर और मन में संतोष की प्राप्ति होती है। मां संतोषी की पूजा करने के साथ लगातार 16 शुक्रवार का व्रत किया जाता है। इस व्रत में सिर्फ एक बार ही भोजन किया जाता है। ध्यान रहे कि इस व्रत में खट्टा नही खाना है। जो व्यक्ति संतोषी मां की पूजा करेगा उसे सुख, संपत्ति और शांति प्राप्त होती है।

sanotshi ma2

ऐसे में अगर आपकी शादी में किसी भी तरह की बाधा आती है तो आप मां संतोषी की पूजा कर सकती हैं। साथ ही व्रत भी रख सकते हैं। इस व्रत के लिए कठोर नियम हैं। ऐसे में इस लेख में हम आपको बता रहे हैं मां संतोषी की पूजा विधि और महत्व के बारे में…

मां संतोषी की पूजा विधि-

— सबसे पहले सुबह उठकर माता संतोषी को याद कर व्रत का संकल्प लें।

— इसके बाद स्नानआदि कर लाल वस्त्र धारण करें।

— इसके बाद घर के मंदिर में माता संतोषी का चित्र और कलश स्थापित करें।

— इसके बाद गुड़, चना, फल, फूल, दूर्वा, अक्षत, नारियल फल से उनकी पूजा करें।

— इसके अलावा मां संतोषी को लाल चुनरी अर्पित करें।

— पूजा के बाद मां संतोषी की आरती करें और प्रसाद बांट दें।

व्रत का महत्व

ऐसी मान्यता है कि माता संतोषी की भक्ति करने से भक्तों के जीवन में सुख-शांति आती है। सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है। मान्यता है कि 16 शुक्रवार माता संतोषी का व्रत करने से अविवाहित कन्या की शादी जल्दी ही हो जाती है। साथ ही, विवाहित स्त्रियों को सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost